तीन किलोमीटर दूर उतराया मिला किशोर का शव

Bhadohi Updated Tue, 05 Jun 2012 12:00 PM IST
वहिदानगर। सीतामढ़ी घाट पर गंगा में डूबे इलाहाबाद के किशोर का क्षत-विक्षत शव सोमवार को भोलादानी के बगल में स्थित कालीघाट पर मिल गया। तकरीबन 24 घंटे से स्टीमर के जरिये गंगा में शव की तलाश कर रहे पुलिस दल को घटनास्थल से तीन किलोमीटर दूर पानी पर उतराए शव को पाने में सफलता मिली। पुलिस ने पंचायतनामा करवाने के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया।
इलाहाबाद के बरिया रामपुर थाने के मीरपुर निवासी रामबाबू दुबे का पुत्र आशीष दुबे (16) अपने मामा और तीन दोस्तों के साथ सीतामढ़ी घूमने आया था। गंगा में नहाने दौरान तेज धारा में फंसने के कारण वह डूब गया। साथ में डूब में रहे आशीष के मामा अनिल और तीन अन्य दोस्तों को तो बचा लिया गया लेकिन आशीष गहरे पानी में चला गया। इसके बाद घाट पर हड़कंप मच गया। शव की तलाश में पुलिस और गोताखोरों ने कई घाटों की खाक छानी लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। पुलिस शव की तलाश में स्टीमर से गंगा में भ्रमण कर रही थी कि सोमवार को भोलेदानी के बगल में स्थित कालीघाट पर किशोर का शव उतराया हुआ मिला। उसके पेट और हाथ-पैर का मांसल हिस्सा जलीय जंतुओं ने खा लिया था। हालांकि मुंह बचा था। पुलिस ने शव मिलने की जानकारी आशीष के परिजनों को दी। इसके बाद परिजन भी पहुंच गए। पुलिस ने शव का पंचायतनामा भरवाने के बाद परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया।

Spotlight

Related Videos

मामा-भांजे में ऐसी हुई बहस कि भांजे ने मामा को मार दी गोली

फतेहाबाद में एक भांजे ने अपने मामा पर गोलियां दाग दीं। घटना बीघड़ रोड की बताई जा रही है जहां पहले मामा-भांजे के बीच तकरार हुई जिसके बाद भांजे ने तैश में आकर अपने ही मामा की पिस्तौल छीनकर उसपर फायर कर दिया और फरार हो गया।

23 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen