अखिलेश के बजट को सपा ने बताया ऐतिहासिक

Bhadohi Updated Sun, 03 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ज्ञानपुर। शुक्रवार को मुख्यमंत्री की ओर से सदन में पेश किए गए बजट पर विभिन्न राजनीतिक दलों ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है। समाजवादी पार्टी ने जहां इसे ऐतिहासिक बजट बताया है, वहीं कांग्रेस ने इसे सपा का चुनावी घोषणा पत्र बताते हुए जनता के साथ छल करने की बात कही है।
विज्ञापन

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रदीप यादव ने प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के द्वारा बिना कोई कर लगाए जनता का वादा पूरा करने पर प्रसन्नता जाहिर की है। कहा कि प्रदेश के इतिहास में पहली बार ऐसा बजट पास हुआ है। कहा कि दसवीं पास छात्रों को टैबलेट, इंटर पास को लैपटाप, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता, कन्या विद्याधन, किसानों को दुर्घटना बीमा, गन्ना किसानों के बकाए का भुगतान, कब्रिस्तान एवं अंत्येष्टि स्थल पर चहारदीवारी निर्माण, गरीब, मुस्लिम लड़कियों को पढ़ाई व शादी के लिए अनुदान, गरीब महिलाओं को साड़ी, गरीबों को कंबल, रिक्शा चालकों को स्वचालित आधुनिक मुफ्त रिक्शा सहित तमाम जनहित से जुड़ी योजनाओं की घोषणा की गई। गरीबों को आवास देने का साहस मुख्यमंत्री ने अपने पहले ही बजट में कर दिखाया है। इसके लिए मुख्यमंत्री व पूरा मंत्रिमंडल बधाई का पात्र है। सपा के जिला प्रवक्ता बंशीधर गुप्ता ने कहा कि बजट के पहले मुख्यमंत्री ने प्रमोशन में आरक्षण को समाप्त कर अपने तेवर को बता दिया था कि आने वाले समय में वह निर्णय लेने से हिचकेंगे नहीं। इस मौके पर सपा के जिला महासचिव कुंवर प्रमोद चंद्र मौर्य, विजय शंकर मिश्र, आजाद शुक्ल, सोनू जायसवाल सहित तमाम लोग मौजूद रहे। उधर, जिला कांग्रेस कमेटी के जिला महासचिव सुरेश चंद्र उपाध्याय ने मुख्यमंत्री के बजट को जनता के साथ छलावा बताया है। कहा कि यह बजट सपा का विशुद्ध चुनावी घोषणा पत्र है। चुनाव के दौरान सपा ने किसानों को पांच-पांच हार्स पावर बिजली मुफ्त देने का वादा कर किसानों के साथ विश्वास घात किया है। इस बजट से जनता को काफी निराशा हुई है और वह अपने को ठगा महसूस कर रही है। यूपी में पेट्रोल से वैट न कम करने से यह साबित होता है कि सपा सरकार जनता को राहत नहीं देना चाहती है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us