विज्ञापन
विज्ञापन
UP Board Result 2019 UP Board Result 2019

भरोसा करने वाले की मदद करते हैं भगवान

Bhadohi Updated Sun, 27 May 2012 12:00 PM IST
जंगीगंज। डीघ विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय सदाशिवपट्टी में चल रहे श्री राम नाम जप महायज्ञ में शनिवार को बड़ी संख्या में भक्तों ने आहुतियां डालीं। आज के यजमान कमला शंकर पांडेय सपत्नीक रहे। इस मौके पर विशाल भंडारे का भी आयोजन किया गया।
विज्ञापन
विज्ञापन
प्रवचन करते हुए स्वामी संतदास जी महाराज ने कहा कि भक्ति से भगवान प्रसन्न होते हैं। भक्ति दो प्रकार की होती है। स्वार्थ की और नि:स्वार्थ की। स्वार्थ की भक्ति स्वार्थ पूरा होने के बाद समाप्त हो जाती है जबकि नि:स्वार्थ भक्ति आजीवन बनी रहती है। भक्त जहां चाहें वहीं भगवान को प्रकट कर देता है। प्रह्लाद ने पत्थर से भगवान को निकाल दिया। द्रौपदी के लिए भगवान साड़ी बन गए। संसार का भरोसा छोड़कर जो भगवान के भरोसे रहता है उसके लिए भगवान दौड़े चले आते हैं। दशरथ और कौशिल्या का प्रेम देखकर भगवान अयोध्या की धूली में लोटे। गोपियों का प्रेम देखकर भगवान वृंदावन में नाचे। भगवान भक्तों के पीछे चलते हैं और भक्त को अपने ऊपर स्थान देते हैं। भगवान की प्रतीति भक्त ही कराता है। भक्त जहां बैठ गया वहीं तीर्थ हो गया। भक्त जिस पत्थर को पूजे वही ईष्ट हो गया। भरत लाल जी खड़ाऊं में रामजी को बैठा लिए और खड़ाऊं की 14 वर्ष तक पूजा किए। उन्हें खड़ाऊं में ही भगवान दिखाई देते थे। जटायु नीच जाति का पक्षी होने के बाद भी आजीवन भगवान का भजन करता रहा और भगवान के कार्य में मृत्यु होकर परमलोक को प्राप्त हुआ। प्रवचन शनिवार को समाप्त हो गया। रविवार को महायज्ञ की पूर्णाहुति की जाएगी। इस मौके पर विशाल भंडारे का आयोजन भी किया गया है।

Recommended

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम
UP Board 2019

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?
ज्योतिष समाधान

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

आज का पंचांग : 26 अप्रैल 2019, शुक्रवार

शुक्रवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र और बन रहा है कौन सा योग? दिन के किस पहर करें शुभ काम? जानिए यहां और देखिए पंचांग शुक्रवार 26 अप्रैल 2019.

26 अप्रैल 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election