लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   ›   जंगीगंज में सड़कों पर गेहूं का भंडारण

जंगीगंज में सड़कों पर गेहूं का भंडारण

Bhadohi Updated Fri, 25 May 2012 12:00 PM IST
जंगीगंज। डीघ विकास खंड में क्रय केंद्र जंगीगंज में जहां किसानों का गेहूं बेचने की भारी भीड़ लगी हुई है, वहीं लंबे समय से खुले में डंप पड़ा हजारों कुंतल गेहूं मुसीबत बना हुआ है। इससे तौल भी लगभग ठप हो गया है।

ज्ञात हो कि क्षेत्र दो सौ गांवों के गेहूं खरीद का भार अकेले वहन करने वाला गेहूं क्रय केंद्र जंगीगंज अपने लक्ष्य ग्यारह हजार कुंतल के करीब पहुंच गया है। लेकिन लंबे समय से गोदाम में गेहूं को न भेजे जाने के चलते हजारों कुंतल गेहूं क्रय केंद्र के आसपास खुले आसमान के नीचे व सड़कों पर रखा गया है। सर्विस रोड पर भी गेहूं को रख देने के कारण आवागमन भी प्रभावित हो रहा है। तौल के लिए किसी तरह से स्थान बनाकर तौल किया जा रहा है। बिना टोकन के गेहूं लाने के चलते राजमार्ग पर भी गेहूं का ढेर लग गया है। जिससे अतिक्रमण की स्थिति बन गई है। बुधवार की शाम तक क्रय केंद्र की स्थिति इस कदर दु:सह बन गई है कि गोदाम उसके आसपास के घरों व खुले आसमान के नीचे गेहूं का ढेर लग गया है। जिससे सड़क पर आवागमन में भी दिक्कतें हो रही हैं। इसके बावजूद केंद्रों पर किसानों की भीड़ कम नहीं हो रही है। किसानों ने डंप पड़े गेहूं को तत्काल गोदाम भेजवाने की मांग की है। ताकि खरीद व तौल सुचारू रूप से हो सके। इस संबंध में वरिष्ठ विपणन निरीक्षक संदीप कुमार निगम का कहना है कि विभाग में जगह की व्यवस्था नहीं हो पा रही है। जिससे गेहूं डंप पड़ा हुआ है। डंप पड़े गेहूं को हटाने के के बाद ही स्थिति सामान्य हो पाएगी।

औराई संवाददाता के अनुसार विकास खंड औराई के गेहूं क्रय केंद्र कुरौना में गेहूं की खरीदारी दस दिनों से बंद हो चुकी है। जिसके कारण किसान बिचौलियों के माध्यम से गेहूं को औने पौने दामों में बेचने के लिए बाध्य हो गए हैं। इस संबंध में क्रय केंद्र के अधिकारियों का कहना है कि गोदाम में जगह न होने के कारण गेहूं की खरीद नहीं हो रही है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00