टीईटी मेरिट के आधार पर हो शिक्षकों की भर्ती

Bhadohi Updated Thu, 24 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ज्ञानपुर। टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों की हरिहरनाथ मंदिर पर हुई बैठक में बरेली में बीएड, टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों पर की गई लाठीचार्ज की कड़ी निंदा की गई। बांह पर काली पट्टी बांधकर इसका विरोध जताया गया। वक्ताओं ने टीईटी मेरिट के आधार पर शिक्षकों की भर्ती करने की मांग की है।
विज्ञापन

वक्ताओं ने कहा कि टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थी शिक्षक बनने की आस लगाए हुए हैं, लेकिन विधायिका और कार्यपालिका की निष्क्रियता के चलते अभ्यर्थियों का मानसिक और शारीरिक उत्पीड़न हो रहा है। कई बार मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कष्ट को दूर करने की मांग की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। इससे अभ्यर्थियों में काफी रोष व्याप्त हो गया। वक्ताओं ने बरेली में बीएड टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों पर हुई लाठीचार्ज की निंदा की। बांह पर काली पट्टी बांधकर इसका विरोध किया गया। वक्ताओं ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण महेंद्र, सोनू और अंगद चौरसिया की असमय मृत्यु हो गई। यह घटना फिर न घटे, इसके लिए अभ्यर्थियों ने टीईटी मेरिट के आधार पर ही शिक्षकों की भर्ती करने की मांग की। बैठक में अवधेश मालवीय, अरुण चतुर्वेदी, रमेश यादव, अनूप शुक्ला, शिवम श्रीवास्तव, राजन शुक्ल, प्रदीप तिवारी आदि ने विचार रखे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us