हर दो-दो घंटे के अंतराल पर हो रही कटौती

Bhadohi Updated Fri, 18 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ज्ञानपुर/चौरी। नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों को मिलने वाली बिजली हर किसी के लिए मुसीबत बनती जा रही है। दिन में बिजली के आने और जाने का कोई समय निर्धारित नहीं है। पर रात्रि में चार बार वह भी एक-एक घंटे कटौती होना निश्चित हो गया है। इससे उपभोक्ताओं को न दिन में चैन है और नहीं रात में।
विज्ञापन

जिला मुख्यालय होने के नाते ज्ञानपुर के चार फीडरों पर 16 घंटे के बजाय मात्र दस घंटे भी बिजली नहीं मिल रही है। सुबह छह बजे से आठ बजे के बीच आठ से दस बार बिजली कटौती होती है। इसके बाद से दो बजे दिन में बिजली आती है। दो बजे दिन में बिजली आने के बाद बीच-बीच में कटौती होेने का सिलसिला जारी रहता है लेकिन बिजली आती रहती है। शाम सात बजे से रात्रि साढ़े नौ बजे तक कटौती के बाद रात्रि में भयंकर कटौती का सिलसिला शुरू हो जाता है। रात्रि दस बजे से 11 बजे के बीच कटौती, रात्रि 12 बजे से दो बजे के बीच कटौती और उसके बाद सुबह चार बजे से छह बजे तक कटौती रहती है। हर दो घंटे पर हो रही कटौती से रात में तो लोग सो ही नहीं पा रहे हैं।
चौरी संवाददाता के अनुसार दो शिफ्टों में मिलने वाली बिजली से हर उपभोक्ता परेशान हो चुका है। चौरी के दो फीडरों में साउपुर फीडर पर दिन और रात्रि दो शिफ्टों में बिजली आपूर्ति करने का निर्देश है इसके बाद भी बिजली रात एक बजे से सुबह 11 बजे तक ही आपूर्ति की जाती है। नरपतपुर फीडर से दो शिफ्टों में आपूर्ति हो रही है लेकिन वह बेकार साबित हो रही है। दिन में आने का कोई समय नहीं है पर रात्रि में भयंकर कटौती के चलते लोगों को रात्रि बाहर बैठकर ही गुजारनी पड़ती है। रात्रि में कभी 11 बजे तो कभी दो बजे बिजली कटती है और दो-दो घंटे के अंतराल पर बिजली आती है। क्षेत्र के अनिल चौरसिया, प्रमोद सिंह, पवन सेठ, प्रदीप मौर्य, रवि मोदनवाल आदि ने जिलाधिकारी से निर्धारित रोस्टर के अनुरूप आपूर्ति और रात्रि कालीन बिजली कटौती समाप्त करने की मांग की है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us