विज्ञापन

शिक्षक को दस वर्ष का सश्रम कारावास

Bhadohi Updated Fri, 18 May 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। जिला एवं सत्र न्यायाधीश बलबीर प्रसाद की अदालत ने बलात्कार के आरोपी शिक्षक को दस वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। भदोही थाना अंतर्गत पीडि़ता के चचेरे भाई ने एफआईआर कराई थी कि दिनांक एक अप्रैल 2011 को उसकी चचेरी बहन कुमारी स्नेहा गुप्ता (परिवर्तित नाम) आयु 15 वर्ष छह माह, हाईस्कूल की परीक्षा देने गई थी। उसका परीक्षा केंद्र डॉ. रामखेलावन विद्यालय भदोही में था। साढ़े 12 बजे जब वह घर लौट रही थी, तभी रास्ते से लापता हो गई और घर नहीं आई। काफी खोजबीन के बाद पता चला कि कामेश त्रिपाठी उर्फ बच्चा पुत्र काशीराम त्रिपाठी निवासी मोहल्ला भदैनी थाना भेलूपुर जिला वाराणसी उसकी चचेरी बहन को बहला-फुसलाकर धोखे से कहीं भगा ले गया था। विगत वर्ष कामेश त्रिपाठी उसकी चचेरी बहन को उसके ननिहाल वाराणसी में ट्यूशन पढ़ाता था। कामेश त्रिपाठी के घर जाकर पूछताछ की तो उसके घरवालों ने बताया कि लड़का कहां गया है, पता नहीं है। वादी ने अपने इस प्रार्थना पत्र में अभियुक्त कामेश त्रिपाठी का दो मोबाइल नंबर भी दिया है और अपनी चचेरी बहन की बरामदगी की प्रार्थना के साथ मुकदमा दर्ज कराया। भदोही थाने में अपराध संख्या 76/11 अंतर्गत धारा 363 और 366 में मुकदमा पंजीकृत हुआ था। 26 अप्रैल 2011 को स्थानीय पुलिस ने अपहृत किशोरी को बरामद कर लिया और चिकित्सकीय परीक्षण कराया गया। पूरक मेडिकल परीक्षण में लगभग पांच सप्ताह के गर्भ की भी स्थिति सामने आई। मामले में आरोप पत्र पुलिस ने न्यायालय में प्रेषित किया। न्यायालय ने आरोपी के विरुद्ध 363, 366, 376 भारतीय दंड विधान की धारा में आरोप विरचित किया था। गवाहों का साक्ष्य अंकित किया गया। न्यायालय ने आरोप को सिद्ध पाते हुए आरोपी को धारा 363 में पांच वर्ष और 366 में पांच वर्ष तथा धारा 376 में दस वर्ष के सश्रम कारावास के साथ 50 हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई।
विज्ञापन
विज्ञापन
15 वर्षीय बालिका के अपहरण व बलात्कार के आरोप में न्यायालय ने यह भी निर्णय दिया कि अर्थदंड की धनराशि अभिप्राप्त होने पर आधा धन पीडि़ता को दिया जाए। अभियोजन पक्ष की ओर से बहस पैरवी जिला शासकीय अधिवक्ता पंकज श्रीवास्तव और दाराशिकोह ने की।

Recommended

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा, पाएं पूरा समाधान जाने-माने ज्योतिषी से
ज्योतिष समाधान

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा, पाएं पूरा समाधान जाने-माने ज्योतिषी से

आप भी बन सकते हैं हिस्सा साहित्य के सबसे बड़े उत्सव "जश्न-ए-अदब" का-  यहाँ register करें-
Register Now

आप भी बन सकते हैं हिस्सा साहित्य के सबसे बड़े उत्सव "जश्न-ए-अदब" का- यहाँ register करें-

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

आज का पंचांग : 23 फरवरी 2019, शनिवार

शनिवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र और बन रहा है कौन सा योग? दिन के किस पहर करें शुभ काम? जानिए यहां और देखिए पंचांग शनिवार 23 फरवरी 2019.

23 फरवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree