शिक्षक को दस वर्ष का सश्रम कारावास

Bhadohi Updated Fri, 18 May 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। जिला एवं सत्र न्यायाधीश बलबीर प्रसाद की अदालत ने बलात्कार के आरोपी शिक्षक को दस वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। भदोही थाना अंतर्गत पीडि़ता के चचेरे भाई ने एफआईआर कराई थी कि दिनांक एक अप्रैल 2011 को उसकी चचेरी बहन कुमारी स्नेहा गुप्ता (परिवर्तित नाम) आयु 15 वर्ष छह माह, हाईस्कूल की परीक्षा देने गई थी। उसका परीक्षा केंद्र डॉ. रामखेलावन विद्यालय भदोही में था। साढ़े 12 बजे जब वह घर लौट रही थी, तभी रास्ते से लापता हो गई और घर नहीं आई। काफी खोजबीन के बाद पता चला कि कामेश त्रिपाठी उर्फ बच्चा पुत्र काशीराम त्रिपाठी निवासी मोहल्ला भदैनी थाना भेलूपुर जिला वाराणसी उसकी चचेरी बहन को बहला-फुसलाकर धोखे से कहीं भगा ले गया था। विगत वर्ष कामेश त्रिपाठी उसकी चचेरी बहन को उसके ननिहाल वाराणसी में ट्यूशन पढ़ाता था। कामेश त्रिपाठी के घर जाकर पूछताछ की तो उसके घरवालों ने बताया कि लड़का कहां गया है, पता नहीं है। वादी ने अपने इस प्रार्थना पत्र में अभियुक्त कामेश त्रिपाठी का दो मोबाइल नंबर भी दिया है और अपनी चचेरी बहन की बरामदगी की प्रार्थना के साथ मुकदमा दर्ज कराया। भदोही थाने में अपराध संख्या 76/11 अंतर्गत धारा 363 और 366 में मुकदमा पंजीकृत हुआ था। 26 अप्रैल 2011 को स्थानीय पुलिस ने अपहृत किशोरी को बरामद कर लिया और चिकित्सकीय परीक्षण कराया गया। पूरक मेडिकल परीक्षण में लगभग पांच सप्ताह के गर्भ की भी स्थिति सामने आई। मामले में आरोप पत्र पुलिस ने न्यायालय में प्रेषित किया। न्यायालय ने आरोपी के विरुद्ध 363, 366, 376 भारतीय दंड विधान की धारा में आरोप विरचित किया था। गवाहों का साक्ष्य अंकित किया गया। न्यायालय ने आरोप को सिद्ध पाते हुए आरोपी को धारा 363 में पांच वर्ष और 366 में पांच वर्ष तथा धारा 376 में दस वर्ष के सश्रम कारावास के साथ 50 हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई।
15 वर्षीय बालिका के अपहरण व बलात्कार के आरोप में न्यायालय ने यह भी निर्णय दिया कि अर्थदंड की धनराशि अभिप्राप्त होने पर आधा धन पीडि़ता को दिया जाए। अभियोजन पक्ष की ओर से बहस पैरवी जिला शासकीय अधिवक्ता पंकज श्रीवास्तव और दाराशिकोह ने की।

Spotlight

Related Videos

Video: ग्रीन सिगनल होने पर ही सड़क पार करती है मुंबई की ये बिल्ली

मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो डाला है जिसमें एक बिल्ली ट्रैफिक नियमों का पालन करते दिख रही है। इस वीडियो के जरिए ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों को मुंबई पुलिस ने एक अनोखी सीख दी है।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper