गेहूूं क्रय केंद्र पर धांधली की शिकायत डीएम से

Bhadohi Updated Fri, 11 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ज्ञानपुर। गेहूं क्रय केंद्रों पर धांधली की शिकायत को लेकर भाजपाइयों का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी से मिला। भाजपाइयों ने चार सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की।
विज्ञापन

प्रतिनिधिमंडल में गए जिलाध्यक्ष संतोष पांडेय ने कहा कि सुभाषनगर गेहूं क्रय केंद्र पर किसानों से प्रति कुंतल 42.50 रुपये प्रति कुंतल सुविधा शुल्क लिया जा रहा है। कोटा पूरा होने का बहाना बनाकर अधिकांश गांवों के किसानों को क्रय केंद्र से उनका गेहूं न लेकर वापस कर दिया जा रहा है। गोपीगंज गेहूं क्रय केंद्र पर प्रभावशाली व्यक्तियों का गेहूं लेने का भाजपाइयों ने आरोप लगाया। कहा कि छोटे व मझोले किसानों की उपेक्षा की जा रही है। पाली गेहूं क्रय केंद्र पर तैनात अधिकारी व कर्मचारी का मोबाइल स्वीच आफ रहता है। किसानों से मनमानी ढंग से सुविधा शुल्क ली जा रही है। जंगीगंज गेहूं क्रय केंद्र पर प्रति कुंतल की दर से सुविधा शुल्क ली जा रही है। बिचौलियों के माध्यम से गेहूं की खरीद हो रही है। इस मौके पर छत्रपति सिंह, रमेश कुमार, रमेशचंद्र पांडेय, शिव कुमार दुबे, दिव्या पाठक, मनोज शुक्ल, प्रेमशंकर पाठक, राकेश पाठक, प्रवेश तिवारी, शैलेंद्र दुबे, ओमप्रकाश तिवारी, अभिनव पांडेय, अवधेश उमर वैश्य, विष्णु दुबे व श्रीप्रकाश सिंह मौजूद थे।
किसानों का क्र य केंद्रों पर हो रहा शोषण
ज्ञानपुर। जिला कांग्रेस कमेटी की बैठक गुरुवार को जिला कार्यालय पर हुई। बैठक में प्रदेश सरकार की किसान विरोधी नीतियों का विरोध किया गया। बैठक की अध्यक्षता करते हुए कमेटी के जिलाध्यक्ष रत्नेश मिश्र ने कहा कि किसान अपने गेंहू की बिक्री के लिए दर-दर भटक रहा है। बिचौलियों की चांदी कट रही है। किसान अपना गेहूं सरकार को देना चाहता है लेकिन सरकार के पास बोरा ही नहीं है। बोरे के नाम पर किसानों से 50 रुपये से लेकर 100 रुपये तक कटौती क्रय केंद्रों पर की जा रही है। कमेटी के जिला महासचिव सुरेश चंद्र उपाध्याय ने मुख्य विकास अधिकारी से मांग किया की किसानों के गेहूं को 17 मई तक पीसीएफ केंद्रों पर नहीं लिया गया। तो कांग्रेस कमेटी की ओर से 18 मई को चक्का जाम और विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। बैठक में डा. देवेंद्र दूबे, आलोक दूबे, कुलदीप श्रीवास्तव, गुलजारी लाल उपाध्याय, विनोद दूबे, संजीव दूबे, प्रेम बिहारी उपाध्याय, हरिश्चंद्र दूबे, आनंद उपाध्याय आदि लोग मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us