बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

मांगों को लेकर कम्यूनिष्टों का धरना

Bhadohi Updated Wed, 02 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ज्ञानपुर। भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी खेत मजदूर यूनियन की ओर से मंगलवार को विभिन्न मांगों को लेकर श्रम विभाग कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर धरना दिया गया। यूनियन की ओर से मांगों के साथ-साथ मजदूराें के हक कि आवाज बुलंद करने के लिए एक मई को मजदूर दिवस भी मनाया। मनाया गया।
विज्ञापन

इस मौके पर आयोजित सभा में वक्ताओं ने कहा कि मजदूरों के शोषण, और दमन के खिलाफ आवाज उठाने के विरोध में एक मई को अमेरिका के शिकागो मेें पूंजीवादी व्यवस्था के खिलाफ श्रम कानून लागू करने के लिए सैकड़ों मजदूरों ने काम काज बंद करके धरना दिया। मजदूरों के इस आंदोलन को दबाने के लिए पूंजीपतियों की ओर से लाठीचार्ज और गोली चलाई गई। हवाई फायरिंग में तीन मजदूर भी शहीद हो गए। गोलीकांड की जानकारी होते ही मजदूराें का यह आंदोलन काफी उग्र हो गया। उस आंदोलन के विरोध में प्रशासन ने जमकर मनमानी की। मजदूरों ने अपने आंदोलन को तेज करने के लिए वस्त्रों को खून से लाल कर लाल झंडा बनाया और अपनी आवाज बुलंद की। जो आज तक मजबूती के साथ मजदूर करते चले आ रहे हैं। वक्ताओं ने केंद्र और प्रदेश सरकार को मजदूर विरोधी करार दिया। दोनों सरकार पूंजीपतियों को मजदूराें के शोषण के लिए पूरी छूट दिए हैं। वक्ताओं ने कहा जिले में कालीन बुनकरों की मासिक मजदूरी तीन हजार कर की जाए। इससे कम मजदूरी मजदूर नहीं लेंगे। कालीन फैक्ट्रियाें ने फैक्ट्री एक्ट लागू करने के साथ ही ठेकेदारी प्रथा को बंद किया जाए। वक्ताओें ने कहा विश्व मजदूर एक मई है इसका नारा लगाते हुए, शिकागो मजदूर आंदोलन में शहीद हुए अमर सपूतों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर सुशील श्रीवास्तव, ओम प्रकाश यादव, आजाद हुसैन, कमला शंकर यादव, देवी प्रसाद, फूलचंद्र प्रजापति, माधव सरोज, राजाराम बिंद, जनार्दन गुप्ता, मुमताज अहमद, आजम, छोटेलाल वनवासी आदि मौजूद रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us