गिरोह सरगना को चार साल कैद, जुर्माना

Badaun Updated Thu, 15 May 2014 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

बदायूं। न्यायालय पंचम अपर सेशन जज सीपी सिंह ने गैंग सरगना को चार साल कैद और पांच हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। अभियोजन पक्ष के अनुसार थाना बिनावर क्षेत्र के सिकरोड़ी गांव निवासी असलम ने दो साथियों के साथ मिलकर गिरोह बना रखा था। ये गिरोह रुपयों की खातिर संगीन वारदातों को अंजाम देता था। भय के कारण गांव में आमजन इस गिरोह की हरकत बर्दाश्त करने को मजबूर थे।
विज्ञापन

आसपास के थानों में गिरोह के बदमाशों के खिलाफ कई मुकदमे दर्ज थे। तत्कालीन एसओ बिनापर पुतान सिंह ने असलम, मोहम्मद नवी और मोहम्मद मियां के खिलाफ गिरोहबंद कानून में आठ सितंबर 04 को मुकदमा दर्ज किया था। विद्वान न्यायाधीश ने सुनवाई मे बाद गिरोह सरगना असलम को चार साल कैद समेत पांच हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई। जबकि मोहम्मद नवी की पत्रावली को अलग कर दिया जबकि मोहम्मद मियां की मुकदमे के दौरान मौत हो गई।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us