स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता परखेंगे बीडीओ

Badaun Updated Wed, 07 May 2014 05:31 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

बदायूं। बेसिक शिक्षा को ढर्रे पर लाने के लिए डीएम सीपी त्रिपाठी ने बुधवार को हुई मासिक बैठक मेें महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए क्षेत्र पंचायत अधिकारियों (बीडीओ) को शिक्षा की गुणवत्ता जांचने के निर्देश दिए। कहा, वह स्कूलों में जाकर बच्चों के ज्ञान को परखकर गुणवत्ता की जांच करें और रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। इसी के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा बिना अनुमति मुख्यालय छोड़ने और बैठक में भाग न लेने पर आरईएस के अभियंता का जवाब तलब भी किया। कहा, लापरवाही के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे।
विज्ञापन

विकास भवन के सभाकक्ष में मासिक समीक्षा बैठक में डीएम ने लोहिया ग्रामों से संबंधित सभी अधिकारियों से अपने-अपने विभागीय कार्य पूरे होने की लिखित रिपोर्ट तलब की है। कहा, रिपोर्ट के आधार पर लोहिया ग्रामों के लिए नामित नोडल अधिकारियों से उन विकास कार्यों की क्रास चेकिंग कराई जाएगी। इसी प्रकार डीएम ने सभी बीडीओ को आदर्श तालाबों के संबंध में फोटोग्राफी सहित सूचना उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। श्री त्रिपाठी ने मनरेगा अंतर्गत एमआईएस और स्वच्छ शौचालयों की फीडिंग का कार्य 14 मई तक पूरा कराने के निर्देश दिए कहा, 15 मई को वेबसाइट लॉक हो जाएगी। वहीं विकास कार्यों के आंकड़ों में गड़बड़ी होने पर जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए सुधार कराने की हिदायत दी है। कौशल विकास प्रशिक्षण की जानकारी उपलब्ध न कराए जाने पर नाराजगी जताई। कहा, ट्रेनिंग के नाम पर खानापूर्ति हुई होगी कार्यवाही। बैठक में सीडीओ उदयराज सिंह सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us