रेल फ्रैक्चर ने रोकी ट्रेनों की रफ्तार, हादसा टला

Badaun Updated Fri, 25 Oct 2013 05:44 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

बदायूं। बरेली-कासगंज रेलवे ट्रैक पर बृहस्पतिवार को बड़ा हादसा टल गया। बदायूं-उझानी के बीच शेखूपुर हाल्ट के पास रेल फ्रैक्चर होने की वजह से इस रूट पर दो घंटे तक गाड़ियों के पहिए थमे रहे। दोपहर करीब दो बजे पटरी बदलने के बाद यातायात सुचारु हो सका। रेल यातायात ठप होने की वजह से यात्री हलकान रहे। इस दौरान बरेली से कासगंज जाने वाली एक ट्रेन बदायूं जबकि दूसरी घटपुरी स्टेशन पर दो घंटे तक खड़ी रही। बाद में अप और डाउन की चार रेल गाड़ियों को पटरी में लकड़ी का टुकड़ा लगाकर इंजीनियरों ने निकाला।
विज्ञापन

पटरी में फैक्चर शेखूपुर हाल्ट से कुछ आगे धमेई गांव के पास हुआ। बरेली से कासगंज जाने वाली गोकुल एक्सप्रेस सुबह करीब नौ बजे बदायूं स्टेशन से चलकर उझानी की ओर जा रही थी। सुबह करीब सवा नौ बजे रेलवे के ट्रैक मैन ने धमेई गांव के पास लाल झंडी दिखाकर ट्रेन को रोका। इससे पहले कि ट्रेन रुकती इंजन और दो डिब्बे टूटी पटरी से गुजर चुके थे। गनीमत रही कि कोई हादसा नहीं हुआ। रेल फ्रैक्चर की सूचना पर रेलवे के सीनियर सेक्शन इंजीनियर एनपी सिंह और जेई सुधाकर सिंह मौके पर पहुंच गए।
करीब सवा ग्यारह बजे रेल पटरी के टूटे हिस्से में लकड़ी का टुकड़ा लगाकर गोकुल एक्सप्रेस को यहां निकाला गया। बाद में बाकी की चार रेल गाड़ियां भी इसी तरह यहां से निकलीं। दोपहर करीब दो बजे पटरी बदलने के बाद ट्रैक पर यातायात सामान्य हो सका।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us