विज्ञापन
विज्ञापन

जानलेवा हमले में चार को दस साल कैद

Badaun Updated Sun, 24 Feb 2013 05:30 AM IST
बदायूं। स्पेशल जज (एससी-एसटी) हरिहर प्रसाद यादव ने जानलेवा हमले के मामले में नामजद पिता-पुत्र सहित चार आरोपियों को दस-दस वर्ष कैद और एक-एक हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई है। उधर, सीजेएम पवन प्रताप सिंह ने छेड़छाड़ के मामले में नामजद दो आरोपियों को दो-दो वर्ष की कैद की सजा सुनाई है।
विज्ञापन
स्पेशल जजा श्री यादव की कोर्ट में थाना हजरतपुर क्षेत्र के गांव दिवचरी के सूरजपाल तथा उसके पुत्रगण रूपराम, रविंद्र सहित नरेश पर जानलेवा हमला करने के आरोप में मुकदमा चलाया गया। घटना के अनुसार आरोपियों ने आठ जून 2001 की शाम सात बजे जान से मारने की नियत से रंजिशन हरिपाल, अनेक पाल, मुन्ने पर तमंचों और बंदूक से फायर करके गंभीर चोटें पहुंचाई थीं। दोनों पक्षों में जमीन की रंजिश थी।
कोर्ट ने दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद अनेक पाल,हरिपाल, मुन्ने पाल जानलेवा हमला करने के आरोप में दोषी पाकर सूरजपाल, व उसके लड़के रुपराम,रविंद्र तथा नरेश को 10-10 वर्ष कैद सहित एक-एक हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई।अभियोजन पक्ष की ओर से पैरवी एडीजीसी मिर्जा राशिद अली बेग ने की।
उधर, सीजेएम की अदालत में कोतवाली सदर के मुहल्ला लोचीनगला निवासी उमेश और सुधीर पर छेड़छाड़ के आरोप का मुकदमा चलाया गया। दोनों आरोपियों ने 14 जुलाई 2000 की सुबह नौ बजे स्कूल जा रही थीं दो छात्राओं को कमरे में बंद करके उनसे छेड़छाड़ करने की कोशिश की शोर पर राहगीरों ने आरोपियों को पकड़ कर छात्राओं को मुक्त कराया। घटना की नामजद रिपोर्ट छात्राओं के परिजनों ने दर्ज कराई। मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने सुनवाई के पश्चात छेड़छाड़ के मामले में दोषी पाकर उमेश और सुधीर को दो-दो वर्ष कैद की सजा सुनाई है।
विज्ञापन

Recommended

आखिर भारतीयों को क्यो पसंद है रमी खेलना?
Junglee Rummy

आखिर भारतीयों को क्यो पसंद है रमी खेलना?

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

कमलेश तिवारी हत्याकांड में ATS को मिली कामयाबी, दोनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार

कमलेश तिवारी हत्याकांड में फरार दोनों आरोपियों को गुजरात एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया है. दोनों आरोपियों के नाम अश्फाक और मुईनुद्दीन है.

22 अक्टूबर 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree