बिसौली के संग्रामपुर में चार लाख की डकैती, गांव में दहशत

Badaun Updated Thu, 27 Dec 2012 05:30 AM IST
दबतोरी। बिसौली क्षेत्र के गांव संग्रामपुर में बदमाशों ने मंगलवार की रात एक किसान के घर धावा बोल दिया। असलहों बल पर परिजनों को बंधक बनाने के बाद चार घंटे तक इत्मिनान के साथ लूटपाट की। बदमाश किसान के घर से 10 तोले सोना, दो भैंस, दो बैल और 15 हजार रुपये आदि संपत्ति लूट ले गए। घटना से गांव में दहशत व्याप्त है।
घटना बिसौली के गांव संग्रामपुर में कोहरे का फायदा उठाते हुए मंगलवार की रात 11 बजे हुई। गांव निवासी किसान सद्दीक के घर पर दर्जन भर बदमाशों ने धावा बोल दिया। बदमाशों ने सद्दीक की पत्नी मुन्नी और पुत्रवधु शबनम समेत परिजनों को बंधक बनाकर एक कमरे में बंद कर दिया। शोर मचाने पर गोली मारने की धमकी दी गई। गृहस्वामी से चाबी लेने के बाद बदमाशों ने चार घंटे तक घर में लूटपाट की। बदमाश घर में रखे 10 तोले के कुंडल, चेन, झुमकी आदि जेवरों के अलावा 15 हजार रुपये नकद, दो भैंस और दो बैल लूट ले गए। बदमाशों केजाने के बाद शोर मचाने पर आसपास के लोग आए बंधक लोगों को मुक्त कराया। घटना से गांव में दहशत व्याप्त है।
बदमाशों ने खाना खाने के बाद पिया चीनी डाल कर दूध
हमारे घर में मंगलवार की रात करीब 12 बदमाश घुस आए। लूटपाट करने वाले बदमाशों में से दो ने घर में रखी हरे धनिया की चटनी से खाना खाया और इसके बाद चीनी डाल कर दूध भी पिया। बदमाशों के हाथ में असलहे थे, इसलिए हम उनका विरोध नहीं कर पाए।
मुन्नी बेगम, गृहस्वामिनी

मुंह में बंदूक की नाल लगाकर छीन ली चाबी
घर में घुस बदमाशों के पास तमंचे और बंदूकें थीं। मेरे सभी परिजनों को एक कमरे में बंद कर दिया गया और मुंह में बंदूक की नाल लगाकर घर की चाबी ले ली। इसके बाद बदमाश घर से करीब चार लाख रुपये की संपत्ति लूट ले गए।
सद्दीक अहमद, गृहस्वामी

गश्त में मौजूद पुलिस को नहीं लगी भनक
मंगलवार की रात गांव संग्रामपुर में बदमाश लूटपाट कर रहे थे। इसी दौरान पुलिस पड़ोस के ही सिरसावां रोड पर गश्त कर रही थी। कोहरे के चलते पुलिस को डकैती की जानकारी नहीं हो पाई। यही वजह रही कि घटना करने के बाद बदमाश बड़ी ही आसानी से भाग गए।

Spotlight

Related Videos

BREAKING:नाबालिग से रेप मामले में आसाराम दोषी करार

नाबालिग से रेप मामले में कथा वाचक आसाराम को दोषी करार दिया गया है। इस मामले में 4 अन्य लोगों को भी दोषी करार दिया गया है। देखिए ये रिपोर्ट।

25 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen