बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

पकड़ा गया पांच हजार का ईनामी प्रशांत

Badaun Updated Sun, 14 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

बदायूं। शातिर अपराधी प्रशांत को सिविल लाइंस पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पंद्रह महीने पहले पुलिस कस्टडी से फरार हुए इस बंदी पर पांच हजार रुपये का ईनाम घोषित किया जा चुका था। शुक्रवार की रात गिरफ्तार किए गए बंदी को पुलिस ने शनिवार को कोर्ट में पेश किया।
विज्ञापन

जिक्र कर दें कि शहर के मोहल्ला ब्राह्मपुर निवासी जग्गी नाम के व्यक्ति की पुलिस लाइन चौराहे के पास लगभग डेढ़ साल पहले हत्या की गई थी। इस मामले में मोहल्ले के ही प्रशांत वर्मा समेत तीन लोग नामजद हुए थे। गिरफ्तारी के बाद बीती छह जुलाई 2011 को प्रशांत एडीजे 10 की कोर्ट में पेश होने लाया गया था।

यहां प्रशांत ने जेल से साथ आए सिपाही को शराब पिलाने का लालच दिया और मोहल्ला ब्राह्मपुर स्थित अपने घर की ओर ले गया। बकौल प्रशांत जग्गी पक्ष के लोग वहां मिले और दो लाख रुपये में मुकदमे का फैसला करने की बात रखी। इस दौरान सभी लोग शराब पीने बैठ गए।
शराब पीते समय प्रशांत की जग्गी पक्ष के लोगों से हाथापाई शुरू हो गई। साथ आया सिपाही भी नशे की वजह से बेहोश हो चुका था। खुद को फंसता देख प्रशांत वहां से भाग गया। प्रशांत के मुताबिक यहां से भागने के बाद वह हरिद्वार की एक मोटर कंपनी में नौकरी करने लगा था।
वर्जन
शुक्रवार रात सीओ सिटी सत्यसेन यादव को मुखबिर ने प्रशांत के रेलवे स्टेशन पर मौजूदगी की सूचना दी। सीओ के निर्देश पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। प्रशांत की गिरफ्तारी पर पांच हजार का ईनाम घोषित था, जो सीओ सिटी को दिया जाएगा।
मंजिल सैनी, एसपी

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us