विज्ञापन

बेटी के ब्याह को सरकारी इमदाद का इंतजार

Badaun Updated Sun, 14 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। गरीबों के लिए भले ही तमाम योजनाएं चलाई जा रही हों, लेकिन वह धरातल पर आते-आते दम तोड़ देती हैं। ऐसी ही योजनाओं में शामिल है शादी अनुदान योजना। इस योजना का लाभ पाने की आस लगाए गरीबों की 96 बेटियों का ब्याह भी हो गया, मगर उनके परिवारों को सरकारी इमदाद पाने का सपना पूरा नहीं हो सका। वह हर दिन समाज कल्याण विभाग के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन न तो अफसर सुन रहे और न कर्मचारी।
विज्ञापन
शादी अनुदान के लिए अप्रैल माह से अब तक लगभग 750 परिवारों ने अपनी बेटियों की शादी के लिए आवेदन किए थे। विभाग के आंकड़ों के अनुसार 354 परिवारों को इसका लाभ दिया जा चुका है। इसमें अनुसूचित जाति के 279 सामान्य वर्ग के 75 परिवार शामिल हैं। इस योजना में प्रति लाभार्थी दस हजार रुपये दिए जाने का प्रावधान है।
विभाग के पास अभी 396 लाभार्थियों के आवेदन अटके हुए हैं। उन पर गौर नहीं किया गया। विभागीय सूत्र बताते हैं कि 96 परिवारों की बेटियों के हाथ पीले हो गए, लेकिन उन्हें लाभ नहीं मिला। शादी से दो माह पहले से अब तक चक्कर लगा रहे हैं, पर लाभ नहीं दिया गया।
घिस गई चप्पलें
गांव सिरसा की चमेली देवी का कहना है कि बेटी की शादी 13 जून को हो गई। अनुदान के लिए एक माह पहले आवेदन किया, लेकिन लाभ आज तक नहीं मिला। दौड़ते-दौड़ते चप्पलें घिस गईं। जिम्मेदार लोगों की सेवा कर देते तो लाभ मिल जाता। भगतपुर की रामवती की बेटी की शादी 22 जुलाई को हो गई। यह भी लाभ को भटक रही हैं। कहती हैं कि कर्ज लेकर शादी की। रकम मिल जाएगी तो कुछ राहत मिलेगी।
वर्जन---
मैंने कार्यभार संभालने के बाद तीन सौ से अधिक परिवारों को शादी अनुदान दिया है। कुछ आवेदन पेंडिंग हैं उनको भी लाभ शीघ्र दिया जाएगा। -कुसुम कुमरा, जिला समाज कल्याण अधिकारी
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us