विज्ञापन

फेल हुए 46 नए बनेंगे कुल 15 नलकूप

Badaun Updated Fri, 12 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। सिंचाई का इकलौता साधन नलकूप होने के बावजूद यहां शासन नए नलकूपों के निर्माण में कंजूसी दिखा रहा है। हालत यह है कि कई साल पहले ही विभाग ने जिले के 46 नलकूपों को फेल घोषित कर दिया था। अब 15 नलकूपों की दोबारा स्थापना के लिए पैसा भेजा गया है। बाकी रहे क्षेत्रों में सिंचाई कैसे होगी इस बारे में शासन स्तर से कोई दिशा निर्देश भी नहीं मिला है।
विज्ञापन
नलकूप विभाग करीब तीन से चार साल पहले जिले के 46 नलकूपों को फेल घोषित कर चुका है। इससे जुड़े किसानों को सिंचाई की दिक्कत से जूझना पड़ रहा है। विभाग कई बार शासन से इनकी जगह नए नलकूपों को लगाने को धनराशि की डिमांड कर चुका है लेकिन कई साल से लगातार नजरअंदाज करने के बाद सरकार ने नए नलकूपों के लिए धनराशि जारी की तो उसमें भी कंजूसी दिखाने में कोई कमी नहीं छोड़ी। 46 फेल घोषित नलकूपों में महज 15 नलकूपों के दोबारा निर्माण की धनराशि जारी हुई है। इसमें प्रत्येक नलकूप के निर्माण के लिए करीब 12 लाख की धनराशि स्वीकृति हुई है।
इन नलकूपों के लिए रकम राममनोहर लोहिया पुनर्निर्माण नलकूप योजना के तहत जारी की गई है। ये नलकूप कहां लगाए जाने हैं, इसके लिए सांसद, विधायक सहित अन्य जनप्रतिनिधियों से प्रस्ताव मांगे गए हैं।
इन जगहों पर फेल घोषित हो चुके हैं नलकूप
आसफपुर ब्लाक में मन्नूनगर व पिंदारा, ओरक्षी, अंबियापुर ब्लाक में हरमनपुर, फतेहनगला, लल्लू नगला, इस्लामनगर में कुंदनपुर सहित कुल 46 जगहों पर नलकूप फेल घोषित हुए हैं।
15 नलकूपों के नवनिर्माण के लिए धनराशि स्वीकृत हो चुकी है। जगह का निर्धारण होने के बाद संबंधित जगहों पर नलकूपों का निर्माण कराया जाएगा।
गिरीशचंद्र शर्मा, एक्सईएन, नलकूप खंड प्रथम

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

मैरीकॉम- धोनी के बाद अब इस खिलाड़ी की बायोपिक पर शूटिंग शुरू हुई, ओलंपिक में जीत चुकी है गोल्ड

भारतीय बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल की जिंदगी से जुड़ी फिल्म के मुहूर्त शॉट के मौके पर पूरी टीम मौजूद थी।

26 सितंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree