‘लालपरी’ बन रही पुलिस की कमजोरी

Badaun Updated Wed, 19 Sep 2012 12:00 PM IST
बदायूं। आसानी से हर जगह मिलने वाली ‘लालपरी’ जिले की पुलिस की कमजोरी बन रही है। मंगलवार को सुरक्षाकर्मियों को शराब पिलाकर फरार हुए लूटपाट और हत्या के मुकदमे के बंदी साजिद की फरारी इसकी बानगी भर है। क्योंकि इससे पहले शहर में हुए जग्गी हत्याकांड का आरोपी प्रशांत भी सिपाही को शराब पिलाकर भाग गया था, एक साल हो गए लेकिन वह हाथ नहीं आया। वहीं शातिर बदमाश फिरासत भी एक सिपाही को चाट खिलाकर कोर्ट से फरार हुआ था। हालांकि गिरफ्तारी के बाद उसने मौत को गले लगा लिया।
पहाड़िया की राह पर दौड़ा साजिद
लगभग पांच साल पहले हरीश पहाड़िया नाम का शातिर पुलिस अभिरक्षा से फरार हुआ था। पहाड़िया कोर्ट के रजिस्ट्री दफ्तर वाले रोड से भागता हुआ जिला अस्पताल पहुंचा। वहां से दीवार फांदकर शेखूपुर की ओर भागा था। इसके अलावा फिरासत ने भी यही राह पकड़ी और आज साजिद भी इस रास्ते पर दौड़ा।
मुफीद है रास्ता
कोर्ट गेट से जिला अस्पताल लगभग सौ कदम की दूरी पर रह जाता है। अस्पताल की पिछली दीवार काफी नीची है इसलिए बदमाश दीवार फांदकर मोहल्ला शिवपुरम पहुंचते हैं। यहां से शार्टकट से हाइवे पर पहुंचकर जालंधरी सराय होते हुए शेखूपुर केजंगल में छिप जाते हैं।
मानकों की भी उड़ी धज्जियां
पुलिस के अनुसार चार बंदियों को कोर्ट लाने और ले जाने के लिए दो दरोगा और पांच सिपाही होना जरूरी है। लेकिन मंगलवार को मानक दरकिनार करते हुए एक सिपाही और दो होमगार्ड को यह जिम्मेदारी सौंप दी गई। एसपी मंजिल सैनी ने बताया कि जांच कर रहे हैं।
साजिद के घर पुलिस का छापा
थाना अलापुर के कस्बा ककराला में रहने वाले साजिद के पुलिस अभिरक्षा से फरार होने के बाद शाम को अलापुर पुलिस ने उसके घर पर छापामारी की। यहां पुलिस ने परिवार केलोगों से पूछताछ की साथ ही इलाके के कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। इन संदिग्धों में उसके करीबी शामिल हैं।

Spotlight

Related Videos

दोपहर तक की सारी खबरों का लंच बॉक्स 24 जनवरी 2018

आप देख रहे हैं अमर उजाला टीवी का स्पेशल बुलेटिन न्यूज़ ऑवर। हर रोज जब आप अपने काम में व्यस्त होते हैं, कई जरूरी खबरें आपसे छूट जाती हैं। दोपहर के ठीक 01 बजे तब अमर उजाला टीवी आपके लिए लाता है दिन की हर बड़ी खबर सिर्फ न्यूज़ ऑवर में।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls