आपका शहर Close

विधानसभा चुनाव 2017: रुझान व नतीजे (आगे/जीते)

आवासों की चयन प्रक्रिया शुरू

Badaun

Updated Thu, 13 Sep 2012 12:00 PM IST
बदायूं। राममनोहर लोहिया गांवों के लिए 50-50 इंदिरा आवासों को रोकते हुए सीडीओ ने अन्य गांवों के लिए आवास आवंटन की प्रक्रिया शुरू करा दी है। इसके लिए उन्होंने जिला ग्राम्य विकास अभिकरण (डीआरडीए) को चिट्ठी लिखते हुए लाभार्थियों के चयन के लिए गाइड लाइन भी जारी कर दी है। अमर उजाला ने डीआरडीए के इंदिरा आवासों का पैसा रोकने की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।
बात दें, पूरा नहीं हो रहा है अपने घर का सपना शीर्षक से खबर प्रकाशित की गई थी। इसमें डीआरडीए के छह हजार गरीब बेघरों की रकम न जारी करने को उठाया गया, जबकि विभाग के पास शासन से आया हुआ करीब 13 करोड़ 82 लाख की रकम रखी हुई है। इधर, इस मामले पर गंभीर रूख अख्तियार करते हुए सीडीओ सूर्यपाल गंगवार ने डीआरडीए को लिखित पत्र जारी करते हुए इंदिरा आवास के लाभार्थियों का चयन शुरू कराने का निर्देश जारी किया है। इतना ही नहीं उन्होंने सभी बीडीओ को इंदिरा आवास के लिए बनी स्थाई पात्रता सूची की दोबारा जांच कर रिपोर्ट दी जाए, ताकि पात्रों को आवास जारी किए जा सके। सीडीओ ने बताया कि जिले में 26 लोहिया गांव होने हैं, इनके लिए 50-50 आवासों का पैसा रोककर बाकी अन्य गांवों को जल्द धनराशि जारी की जाएगी।
Comments

स्पॉटलाइट

इन चीजों को खाने के बाद भूल कर भी ना करें दूध का सेवन

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

जहरीले स्प्रे या क्वॉइल की क्या जरूरत, जब घर में मौजूद इन चीजों से ही भाग जाते हैं मच्छर

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

हनीमून पर गई अनुष्‍का की ताजा तस्वीरें आईं सामने, पति कोहली के साथ दिखी 'विराट' खूबसूरती

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

एयर इंडिया में 10वीं पास के लिए वैकेंसी, ऐसे करें आवेदन

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +

साप्ताहिक राशिफलः इन 4 राशि वाले लोगों के व्यावसायिक जीवन में आएगा बड़ा बदलाव

  • सोमवार, 18 दिसंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!