विज्ञापन
विज्ञापन

गुटबाजी ने तोड़ दी लोगों की कमर

Badaun Updated Wed, 12 Sep 2012 12:00 PM IST
बदायूं। बरसात से क्षतिग्रस्त हुई जिले की तमाम सड़कों की स्पेशल रिपेयरिंग (एसआर) को सालभर में महज एक बार मिलनी वाली रकम खतरे में पड़ गई है। हालांकि पीडब्ल्यूडी ने सड़कों की विशेष मरम्मत के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कराई थी लेकिन विभागीय ठेकेदारों के दो गुट के आमने-सामने आ जाने से इस प्रक्रिया पर विवादों में फंस गई और बाद में महकमे को टेंडर प्रक्रिया निरस्त करनी पड़ी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विभाग ने 42 सड़कों की मरम्मत के लिए प्रोजेक्ट तैयार किया और उसका टेंडर देने के लिए हाल ही में प्रक्रिया शुरू करा दी। इन सड़कों की मरम्मत के लिए शासन से स्वीकृति की कार्रवाई चल रही थी। इधर, पीडब्ल्यूडी के ठेकेदारों के दो गुटों के बीच टेंडर खरीदने को लेकर विवाद खड़ा हो गया और टेंडर प्रक्रिया पर यह सवाल खड़े किए गए कि शासन से अनुमति के बगैर सड़कों की मरम्मत की टेंडर प्रक्रिया शुरू कराना अनुचित है। जबकि नियमानुसार पीडब्ल्यूडी टेंडर प्रक्रिया को तो पूरी करा सकता है लेकिन सड़कों की मरम्मत का काम शासन से मंजूरी के बाद ही शुरू हो कराया जाता है।

मरम्मत को कुछ खास सड़कें
-अलापुर से ककराला, मुरादाबाद-फर्रुखबाद मार्ग के किमी 118 कुठिया मार्ग,म्याऊं से उसहैत मार्ग,दबतोरी से लक्ष्मीपुर संग्रामपुर मार्ग,दातागंज-आजमपुर मार्ग से नौनी मार्ग, बिसौली-आंवला मार्ग के किमी 12,13,14,बदायूं-बिजनौर मार्ग से बदरपुर आबादी भाग में सीसी रोड कार्य, बीएम मार्ग के किमी 114 के उझानी मार्केट में उच्चीकरण।

टेंडर खरीदने को लेकर ठेकेदार एकमत नहीं हो रहे थे, जिसे लेकर दो पक्षों के बीच कोई समझौता नहीं हो सका और बाद में कुछ ठेकेदारों ने स्वीकृति के बगैर टेंडर शुरू करने का मामला उठाया था।
जगदीश सरन, नेता पीडब्ल्यूडी ठेकेदार

पीडब्ल्यूडी ने सड़क मरम्मत की स्वीकृति नहीं ली थी। बाद में ठेकेदारों का पेमेंट फंस जाता है। इसी आशंका को लेकर टेंडर प्रक्रिया का विरोध किया गया था।
बलवीर सिंह, नेता पीडब्ल्यूडी ठेकेदार

सड़कों की मरम्मत के लिए प्रत्याशा टेंडर प्रक्रिया शुरू हो सकती है लेकिन कार्य शासन की स्वीकृति के बाद ही प्रारंभ कराए जाते हैं। यह समय बचाने के लिए होती है लेकिन ठेकेदारों ने बखेड़ा कर रुकवा दिया।
सुरेशचंद्र आर्या, एक्सईएन पीडब्ल्यूडी

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
ज्योतिष समाधान

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

#Votekaro: सरकारी अधिकारी लू के थपेड़ों से बचने के लिए कर रहे प्याज का इस्तेमाल

चुनाव अधिकारी भरी गर्मी में मतदान करवाने में जुटे हैं। गर्मी के थपेड़ों से निपटने के लिए इन अधिराकियों ने प्याज का सहारा लिया है। देखिए कैसे,

19 मई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election