विज्ञापन
विज्ञापन

सीमा विवाद के चक्कर में बाढ़ पीड़ित घिरे

Badaun Updated Sun, 02 Sep 2012 12:00 PM IST
उसहैत। गंगा के इस पार दर्जनभर गांवों में एक सप्ताह से पानी भरा हुआ है, लेकिन यहां कोई भी राहत सामग्री नहीं पहुंची। पानी कम-अधिक होने से ग्रामीणों में दहशत है। कोई राहत अफसरों ने अब तक नहीं पहुंचाई। वह सीमा विवाद में ही उलझे हैं। गंगा का कटान रैपुरा गांव में जारी है।
विज्ञापन
विज्ञापन
शुक्रवार को गंगा के कटान से कस्बे से अहमदनगर बछोरा जाने वाला मार्ग कट गया। गंगा के इस पार के गांव जिजौला, हिम्मतनगर, बझेड़ा, पटेका नगला, ब्यूड़ी नगला, खुर्द का नगला, ढाकन नगला, डंबर नगला, रैसी नगला, पंख सुखिया समेत एक दर्जन गांवों में पानी भरा हुआ है। ग्रामीणों के अनुसार उनके गांवों की सीमा दातागंज, सदर से लगती है। एक-दो कासगंज के भी हैं। दाताराम, विनोद, मुकेश का कहना है कि उनके पास राहत को कोई नहीं पहुंचा। पशुओं के लिए भी चारे का संकट खड़ा हो गया। अफसरों के सीमा विवाद में हम घिरे हुए हैं। इन गांवों के आसपास की फसल नष्ट हो गई, जिसमें मेंथा, बाजरा, सकरकंद, मक्का शामिल हैं।
गंगा के उस पार के आधा दर्जन गांवों में भी कटान जारी है। गांव रैपुरा में कटान अधिक हो रहा है। पीड़ितों को शनिवार को भी 35 हजार की सहायता दी। कानूनगो राजेंद्र सिंह यहां कैंप किए हुए हैं।

Recommended

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
HP Board 2019

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019
ज्योतिष समाधान

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा चौकीदार को हटाएगी जनता

बिहार के सुपोल में कैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि चौकीदार ने देश की नहीं बल्कि अमीरों की चौकीदारी की है।

20 अप्रैल 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election