चांद का दीदार, उत्साह में छोटे पड़े बाजार

Badaun Updated Mon, 20 Aug 2012 12:00 PM IST
बदायूं। ईद की पूर्व संध्या पर खरीददारी को इतने लोग उमड़े की बाजार छोटे पड़ गए। लोगों ने खूब खरीददारी की। अच्छी दुकानदारी होने से दुकानदारों के चेहरे खिले रहे। ईद पर लोगों ने सेवइयां, फैनी, कचड़ी, पापड़, मेवा और कपड़ाें की जमकर खरीददारी की।
रविवार की शाम को ईद का चांद दिखाई देने के साथ ही बाजारों में खरीददारों की भीड़ बढ़ गई। बाजाराें में महिलाओं ने चूड़ियों की जमकर खरीददारी की। मेकअप का सामान, कपड़े व सजावट के आइटम तो बिके ही। साथ ही मीठी ईद होने के कारण सेवाइयां, फैनी, मेवा, मिठाइयां सहित खाने की दुकान पर भी ग्राहकों की भीड़ लगी रही। शहर में हलवाई चौक, खैराती चौक सहित अन्य बाजार ग्राहकों की भीड़ से रात में देर तक गुलजार रहे। त्योहार को लेकर सबसे ज्यादा उत्साह बच्चों में नजर आ रहा था। रेडीमेड की दुकानों पर मनपसंद के कपड़े खरीदने के लिए वह घरवालों से जिद करते दिखाई दिए। नवयुवतियों ने भी कपड़ों की मैचिंग की चूड़ी व शृंगार के सामान की भी खूब खरीददारी की।

मेवा की ब्रिकी बढ़ी
दुकानदार नवी अहमद ने बताया कि मीठी ईद हैं। ईद पर सबसे ज्यादा सेवइयां और फैनी की ब्रिकी होती है। साथ ही मेवों की ब्रिकी ज्यादा होती है। इस बार छुहारा 80 रुपये किलो, गोला 80 रुपये किलो, बादाम 200 रुपये किलो, मींग 300 रुपये, किसमिश 500 रुपये किलो बिक रही है। ईद के मद्देनजर इनकी ब्रिकी में उछाल आया है।

पिछली बार की अपेक्षा भीड़ अधिक
दुकानदार कासिम ने बताया कि इस बार भी फैनी और सेंवई की ब्रिकी पिछले साल की अपेक्षा ज्यादा हुई है। हालांकि बरेली में चल रहे कर्फ्यू की वजह से कुछ ईद पर खरीददारी हल्की है। इस बार सेंवई 30 रुपये और फैनी 60 रुपये किलो बिक रही है।

बीकानेर से मंगवाए स्पेशल पापड़
दुकानदार अशरार ने बताया कि इस बार ईद के लिए उन्होंने स्पेशल कचड़ी पापड़ बीकानेर से मंगवाए हैं। इसके साथ ही चाइना का भी सामान आया है। लोग उसे भी काफी पसंद कर रहे है। आमतौर पर बरेली, रामपुर से आता है। लेकिन बरेली में कर्फ्यू के चलते वहां से सामान पर्याप्त मात्रा में नहीं आ पाया है।

Spotlight

Related Videos

जंगल से भालू आकर करते हैं इस मंदिर में पूजा

क्या कभी आपने जानवरों को पूजा करते देखा है। छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में है 150 साल पुराना चंडी देवी का मंदिर है जहां भालू पूजा करने आते हैं

19 जुलाई 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen