बरसात से पूरे शहर में जलभराव

Badaun Updated Sun, 19 Aug 2012 12:00 PM IST
बदायूं। दो दिन से पड़ रही भीषण गर्मी से लोगों को शनिवार को राहत मिली। दोपहर हुई मूसलाधार बारिश से शहर में कई स्थानों पर जल जमाव हो गया। गड्ढों में गिरकर कई लोग चोटिल हो गए। यातायात बाधित रहा। एक घंटे हुई बारिश का पानी घरों और दुकानों में घुस गया। दुकानदारों का हजारों का नुकसान हो गया।
शुक्रवार को धूप की तल्खी अधिक होने के कारण तापमान में अचानक बढ़ोत्तरी हो गई, जो शनिवार की दोपहर तक जारी रही। गर्मी से लोग पसीना-पसीना हो गए। शाम दो बजे बादल हुए तीन बजे से बरसात शुरू हो गई। लगभग एक घंटा हुई मूसलाधार बारिश से शहर में जगह-जगह जलभराव हो गया। टिकटगंज, शहवाजपुर, पटियाली सराय, नई सराय, ब्राह्मपुर, कटरा ब्राह्मपुर, जवाहरपुरी, मधुबन कालोनी, सिविल लाइन, सोथा, जालंधरी सराय, कश्मीरी चौराहा, आदर्श नगर समेत तमाम मोहल्लों में लोगों को निकलना मुहाल हो गया। छह सड़का, कैलाश टाकीज, पनवड़िया, वाटरवर्क्स इलाकों में कई घरों और दुकानों में पानी भर गया। कई परचून की दुकान में पानी घुसने से लोगों का हजारों का नुकसान हो गया।
लावेला चौराहा, रेलवे क्रॉसिंग, कचहरी मार्ग, बरेली रोड पर जलभराव होने से यातायात बाधित रहा। रेंगकर वाहन निकले। तमाम जगह पर गड्ढे होने से लोग चोटिल हो गए। हालांकि गर्मी से लोगों को जहां राहत मिली वहीं किसानों के चेहरे भी खिल उठे। कृषि वैज्ञानिकों के अनुसार धान समेत सभी खरीफ की फसलों के यह बारिश संजीवनी साबित होगी।

पनवड़िया बिजलीघर में भी पानी भरा
बारिश से जहां पूरा शहर पानी-पानी हो गया वहीं पनवड़िया बिजलीघर में भी पानी भर गया। एहतियात के तौर पर बिजली काट दी गई। देर शाम तक पानी भरा होने से बिजली कर्मियों को खासी परेशानी हुई। कई मोहल्लों में बिजली आपूर्ति नहीं हुई।


बिसौली। नगर ने हुई मूसलाधार बारिश से लोगों ने गर्मी से राहत की सांस ली है। तेज वर्षा से यहां सभी मार्गों पर पानी भर गया। दो घंटे तक आवागमन में लोगों को खासी दिक्कत हुई। शहर में पानी भरने से पालिका की सफाई की कलई खुल गई। चेयरमैन अबरार अहमद ने बताया कि जलभराव की समस्या से निजात जल्द मिलेगी।

Recommended

Spotlight

Related Videos

आजादी वाले दिन कश्मीर पर थी सुब्रमण्यम स्वामी की ये राय

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कश्मीर के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि राइफल मैन औरंगजेब और मेजर आदित्यनाथ ने जिस तरह से अपनी शहादत दी वो अपने आप में मायने रखती है और ये दोनों शहीद शौर्य चक्र पाने के हकदार हैं।

15 अगस्त 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree