फोन और पर्स चुराया, चोरी की साइकिल फेंकी

Badaun Updated Sat, 18 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

उझानी(बदायूं)। पिछले कई दिनों से लगातार चल रहा सिलसिला नागरिकों की मेहनत पर पानी फेरने का सबब बन गया है। बृहस्पतिवार रात भी चोरी हुई। चोर दो घरों की छतों पर पीछे से चढ़े। दो मोबाइल फोन और रुपयों समेत पर्स पर से हाथ साफ कर गए। बच्चों की साइकिल चुराकर चोरों ने पड़ोसी की छत पर फेंक दी।
विज्ञापन

इस बार चोरों का शिकार बने साहूकारा निवासी अमर उजाला से जुड़े राजेश वार्ष्णेय और पड़ोसी जयंती अग्रवाल के घर। चोर दोनों घर की छत पर पिछवाडे़ से चढ़े। उस वक्त दोनों गृहस्वामियों के परिजन सो रहे थे। जागे तो राजेश को अपनी पैंट बिस्तर के पास पड़ी दिखी। पैंट के जेब में दो मोबाइल फोन और पर्स था। राजेश ने बताया कि पर्स में 36 सौ रुपये भी थे लेकिन कोई सामान जेब में नहीं निकला। इसी बीच पड़ोसी के परिजन भी जाग गए। उनकी छत से बच्चे की साइकिल उठाकर चोर एक अन्य छत पर फेंक गए।
सुबह में चोरी की सूचना कोतवाली पुलिस को दी गई। पुलिस ने राजेश की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया है। यहां बता दें कि करीब दो महीना पहले शुरू चोरियों का सिलसिले की गति हालांकि धीमी रही लेकिन पिछले आठ-नौ दिन में चोरियों का ग्राफ तेजी से बढ़ा है। यहीं नहीं, पडोसी गांव बरामयखेड़ा में भी पिछले महीना करीब डेढ़ लाख रुपये कीमत के जेवरात की चोरी हुई थी लेकिन चोरों का पता लगाने में पुलिस नाकाम ही रही है। इधर, पुलिस का कहना है कि ऐसी घटनाओं में स्मैकियों का हाथ हो सकता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us