अलविदा की नमाज को लेकर कई जगह तनाव

Badaun Updated Sat, 18 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

बदायूं। शुक्रवार को अलविदा की नमाज को लेकर जिले में कई जगह तनाव की स्थिति बनी रही। दातागंज और बिल्सी क्षेत्र में एक समुदाय के लोगों ने नई परंपरा के तहत नमाज अदा करने का प्रयास किया। इसे प्रशासन ने रुकवा दिया। इन इलाकों में पुलिस भी तैनात कर दी गई है।
विज्ञापन

दातागंज। कोतवाली क्षेत्र के गांव बराही में एक समुदाय के लोगों ने टेंट लगाकर नमाज अदा करने का प्रयास किया। इससे गांव में तनाव बढ़ गया। मौके पर पहुंचे एसडीएम आरपी कश्यप और सीओ ने गांव में नई परंपरा डालने से मना कर दिया। एसडीएम ने बताया कि इस गांव के लोग पास के गांव सुकड़ी में नमाज अदा करने जाते थे। जो लोग रह जाते थे वे अपने घरों में नमाज अदा करते थे। टेंट लगाकर नमाज अदा करने की नई परंपरा थी, इसलिए इसे रोक दिया गया। इस पर दोनों पक्ष सहमत हैं। एहतियात के तौर पर गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है। जिक्र कर दें कि पिछले दिनों इसी गांव में लाउडस्पीकर बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच फायरिंग हुई थी। प्रशासन ने दोनों तरफ के डेढ़ दर्जन लोगों को मुचलका पाबंद भी किया था।
गढ़ी गांव में बवाल टला
रिसौली। थाना बिल्सी क्षेत्र के गांव गढ़ी में एक समुदाय के लोगों ने नई परंपरा डालते हुए नमाज अदा करने की कोशिश की। दूसरे समुदाय केविरोध पर वहां तनाव बढ़ गया। एसओ बिल्सी राजेश यादव ने बताया कि थाने के त्योहार रजिस्टर में नमाज अदा करने का जिक्र नहीं है। ये लोग उझानी में नमाज अदा करने जाते थे। दोनों पक्षों को समझा दिया है। नमाज अदा नहीं होने दी।

पुरानी को बताया नई परंपरा
बिनावर। थाना क्षेत्र के गांव ब्यौर में शुक्रवार को एक समुदाय के लोग अलविदा की नमाज अदा करने को एकत्र हुए। दूसरे समुदाय के लोगों का आरोप था कि यहां पूर्व में कभी नमाज अदा नहीं की गई है। तनाव की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। एसओ दिनेश यादव ने बताया कि यहां पहले से नमाज होती आई है। समुदाय विशेष के लोग निर्धारित स्थान पर नमाज अदा करने जुटे थे। पुलिस की मौजूदगी में नमाज कराई गई है। एहतियातन गांव में पुलिस तैनात कर दी है। देर रात यहां डीएम मयूर माहेश्वरी और एसपी मंजिल सैनी भी मौके पर पहुंच गईं, उन्होंने लोगों से पूछताछ की।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us