कलह के कारण ही उठाया आत्मघाती कदम

Badaun Updated Mon, 13 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

उझानी/उघैती। शनिवार शाम पुल से बच्चों और पत्नी समेत गंगा में छलांग लगाने का किराना व्यापारी संजय उर्फ संजू का आत्मघाती फैसला पारिवारिक कलह का ही हिस्सा रहा। उसने सुबह मां-बाप से पारिवारिक संपत्ति में अपना हक इस धमकी के साथ मांगा कि अगर बात नहीं मानी तो आत्महत्या कर लेगा। यहां तक कि उसने मां को थप्पड़ भी मार दिया। झगड़ा बढ़ा तो पिता थाने में तहरीर दे आया। एक तो मां को थप्पड़ मारने की आत्मग्लानि ऊपर से पुलिस के जरिए फजीहत की आशंका। कुछ इसी तरह की कहानी का परिवार के पांच सदस्यों को नए सिरे से मिले जीवनदान के साथ पटाक्षेप हो गया।
विज्ञापन

किसी अवसाद से कम नहीं इस पूरी कहानी में उघैती थाना क्षेत्र के गांव छिवऊ खुर्द निवासी ओमकार सिंह के परिवार का हर सदस्य पात्र बन गया है। बात पारिवार में दरकते रिश्तों से ही जुड़ी है। अगर ऐसा नहीं होता तो शायद ही ओमकार के बड़े बेटे संजय उर्फ संजू को आत्मघाती कदम उठाने का फैसला नहीं करना पड़ता। बकौल ओमकार-बात कुछ यूं थी कि संजय ने शनिवार सुबह अपनी मां महत्ती से कहा था कि 50 हजार रुपया दो।संजय को पता था कि घर में करीब 70 हजार रूपया रखे हैं और मैंथा ऑयल भी बिका है। ओमकार का छोटा बेटा विकलांग है, सो मां-बाप उसकी जरूरतों का ख्याल रखते हैं। हालांकि संजय को उघैती कस्बे में किराना की दुकान भी पिता ने खुलवा रखी है।
संजय के गुस्से ने मां को भी कोप का शिकार बना लिया। मामला इतना बढ़ गया कि ओमकार बेटे के खिलाफ थाने जाकर तहरीर दे आया। तीन बच्चों और पत्नी संध्या के साथ गंगा में कूदने के बारे में पूछने पर संजय चुप्पी साध गया। बोला-मुझे मां को थप्पड़ मारने की बात चुभ रही थी। वह तो शुक्र है भगवान का जो गंगा घाट पर गोताखोर प्रकाश मल्लाह आ गया। उसी ने दंपति समेत उसके तीनों बच्चों का सुरक्षित बाहर निकाल लिया था। संजय अपनी बीबी और बच्चों के साथ फिलहाल ससुराल खितौरा में शरण लिए हुए है।
रात में ही संजय के परिजन कोतवाली आ गए थे। उसके परिजन और संध्या का पिता भी पुलिस कार्रवाई नहीं चाहता था, सो उन्हें वे लोग साथ ही घर ले गए। ऐसे में पुलिस कार्रवाई का प्रश्न ही नहीं उठता।
-मुकेश सक्सेना, कोतवाल, उझानी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us