बिजली कटौती से मचा हाहाकार

Badaun Updated Mon, 13 Aug 2012 12:00 PM IST
बदायूं। बिजली कटौती को लेकर फिर शहर में हाहाकार मचा हुआ है। 22 घंटे के शेड्यूल में महज 14 घंटे ही खंड-खंड में आपूर्ति की जा रही है। शनिवार की रात तमाम मोहल्लों की बत्ती गुल रही। रविवार को भी दिन में सात घंटे नहीं मिली। इससे लोगों का गर्मी से बुरा हाल हो गया। एसडीओ टाउन लोकेश जुनेजा का कहना है कि एकादशी पर्व पर मंदिरों पर लाइटिंग से लोड बढ़ेगा। इसके मद्देनजर लाइनों की रिपेयरिंग कराई जा रही है, कुछ मोहल्लों में कटौती की गई है।
शनिवार की रात कूंचापांडा, बगिया दरवाजा, पटियाली सराय, शहवाजपुर, नई सराय समेत दर्जनभर मोहल्लों में बत्ती रातभर गुल रही। रविवार सुबह छह बजे मिली तो फिर 11 बजे कटौती हो गई। शाम तीन बजे आई बिजली चार से छह बजे तक गुल रही। कटौती का क्रम पिछले डेढ़ माह से जारी है। इससे न तो फ्रिज में पानी ठंडा हो पा रहा है और न इनवर्टर चार्ज हो रहे हैं। इसके अलावा ट्रिपिंग और लो वोल्टेज की समस्या बरकरार है।
कूंचापांडा निवासी आकाश, रीतेश, पंकज शर्मा का कहना है कि शनिवार की रात गई बिजली सुबह आई। रातभर मच्छरों के कारण छत पर नहीं सो पाए। इनवर्टर भी डिस्चार्ज हो गए। पेयजलापूर्ति भी प्रभावित हुई। हैंडपंप से पानी लाकर लोगों ने काम चलाया। पटियाली सराय के योगेंद्र शर्मा, शहवाजपुर के सुभाष शर्मा का कहना है कि रविवार को दिन में सात घंटे की कटौती से परेशानी हुई। अफसर जवाब देने को तैयार नहीं हैं।
सखानू निवासी मुहम्मद अहमद ने सांसद को दिए ज्ञापन में कहा उनके कस्बे को बिजली महज दो घंटे ही मिल रही है। रमजान के पवित्र माह में इससे दिक्कत हो रही है। बिजली उपकेंद्र पर तैनात कर्मचारी कभी-कभार आते हैं। उन्होंने बिजली आपूर्ति शेड्यूल के अनुसार दिए जाने की मांग की है।

Spotlight

Related Videos

हैदराबाद और देवबंद में गिरफ्तार किए गए रोहिंग्या, ये है वजह

देश में रोहिंग्या शरणार्तियों द्वारा गलत तरीके से तमाम भारतीय प्रमाण पत्रों को बनवाने के मामले सामने आ रहे हैं।

22 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen