बिजली कटौती से मचा हाहाकार

Badaun Updated Mon, 13 Aug 2012 12:00 PM IST
बदायूं। बिजली कटौती को लेकर फिर शहर में हाहाकार मचा हुआ है। 22 घंटे के शेड्यूल में महज 14 घंटे ही खंड-खंड में आपूर्ति की जा रही है। शनिवार की रात तमाम मोहल्लों की बत्ती गुल रही। रविवार को भी दिन में सात घंटे नहीं मिली। इससे लोगों का गर्मी से बुरा हाल हो गया। एसडीओ टाउन लोकेश जुनेजा का कहना है कि एकादशी पर्व पर मंदिरों पर लाइटिंग से लोड बढ़ेगा। इसके मद्देनजर लाइनों की रिपेयरिंग कराई जा रही है, कुछ मोहल्लों में कटौती की गई है।
शनिवार की रात कूंचापांडा, बगिया दरवाजा, पटियाली सराय, शहवाजपुर, नई सराय समेत दर्जनभर मोहल्लों में बत्ती रातभर गुल रही। रविवार सुबह छह बजे मिली तो फिर 11 बजे कटौती हो गई। शाम तीन बजे आई बिजली चार से छह बजे तक गुल रही। कटौती का क्रम पिछले डेढ़ माह से जारी है। इससे न तो फ्रिज में पानी ठंडा हो पा रहा है और न इनवर्टर चार्ज हो रहे हैं। इसके अलावा ट्रिपिंग और लो वोल्टेज की समस्या बरकरार है।
कूंचापांडा निवासी आकाश, रीतेश, पंकज शर्मा का कहना है कि शनिवार की रात गई बिजली सुबह आई। रातभर मच्छरों के कारण छत पर नहीं सो पाए। इनवर्टर भी डिस्चार्ज हो गए। पेयजलापूर्ति भी प्रभावित हुई। हैंडपंप से पानी लाकर लोगों ने काम चलाया। पटियाली सराय के योगेंद्र शर्मा, शहवाजपुर के सुभाष शर्मा का कहना है कि रविवार को दिन में सात घंटे की कटौती से परेशानी हुई। अफसर जवाब देने को तैयार नहीं हैं।
सखानू निवासी मुहम्मद अहमद ने सांसद को दिए ज्ञापन में कहा उनके कस्बे को बिजली महज दो घंटे ही मिल रही है। रमजान के पवित्र माह में इससे दिक्कत हो रही है। बिजली उपकेंद्र पर तैनात कर्मचारी कभी-कभार आते हैं। उन्होंने बिजली आपूर्ति शेड्यूल के अनुसार दिए जाने की मांग की है।

Recommended

Spotlight

Related Videos

VIDEO: अटल जी की अंतिम यात्रा से लेकर मुखाग्नि तक की तस्वीरें

भारतीय राजनीति में सरकार और विपक्ष के बीच की लकीर को मिटाकर सबके साथ से विकास का मार्ग तलाशने वाले महामानस अटल 17 अगस्त को अनंत में विलीन हो गए।

17 अगस्त 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree