मर्यादा भूलने वाले दो दरोगा एक सिपाही नपे

Badaun Updated Mon, 13 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

बदायूं। खाकी की मर्यादा भूलकर कार्य करने वाले दो दरोगा और एक सिपाही को एसपी मंजिल सैनी ने नाप दिया। विवेचना में शिथिलता बरतने पर एक दरोगा को निलंबित किया गया है। जबकि सहसवान में एक व्यक्ति से मारपीट करने वाले सिपाही का भी निलंबन हुआ है। इसके अलावा दातागंज में हुए पुलिस पर पथराव केमामले की जांच में दरोगा द्वारा धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचने के आरोप में लाइन हाजिर किया गया है।
विज्ञापन

एसपी ने बताया कि थाना वजीरगंज में तैनात दरोगा प्रेमगिरि मारपीट के एक मामले की विवेचना कर रहे थे। दरोगा ने न तो इस मामले में फाइनल रिपोर्ट लगाई और न ही नामजदों की गिरफ्तारी की। इस पर एसपी ने उन्हें निलंबित कर दिया है। वहीं कोतवाली सहसवान में तैनात कांस्टेबिल नेमसिंह ने शनिवार की शाम वहां के एक व्यक्ति से मारपीट कर दी थी। इस मामले की जानकारी होने पर सिपाही के खिलाफ भी निलंबन की कार्रवाई हुई है।
एसपी ने बताया कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर दातागंज कस्बा में एक युवक की बाइक की चपेट में आकर दूसरे समुदाय का युवक घायल हुआ था। इस घटना की जांच करने दरोगा मोहनलाल मौके पर गए थे। दरोगा ने आरोपी युवक के परिवार केलोगों से अभद्रता की थी, वहां पास में ही धार्मिक आयोजन भी चल रहा था। इससे वहां स्थिति बिगड़ी थी। इसलिए धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचने और अनावश्यक बल प्रयोग करने पर उन्हें लाइन हाजिर किया है। एसपी ने बताया कि मर्यादा भूलकर मनमाफिक काम करने वाले कर्मचारियों को बख्शा नहीं जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us