विज्ञापन
विज्ञापन

युवक हत्या कर फिरौती मांगते रहे, चार गिरफ्तार

Badaun Updated Tue, 31 Jul 2012 12:00 PM IST
बिसौली (बदायूं)। बीती 19 जुलाई को कस्बा से अपहृत युवक की अलीगढ़ में ले जाकर अपहर्ताओं ने हत्या कर दी थी। इसके बाद अपहर्ता युवक के मोबाइल सेट से परिवार के लोगों को फोन करके 15 लाख की फिरौती मांगते रहे। इस मामले में पुलिस ने सोमवार को चंदौसी हाइवे पर स्थित गांव संडोला के पास से चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इनकी निशानदेही पर पुलिस ने युवक के कपड़े और दो मोबाइल सेट बरामद किए हैं। अपहरण के बाद हत्या के मामले में युवक के दो रिश्तेदारों के नाम प्रकाश में आए हैं, जो फरार हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विदित हो कि कोतवाली क्षेत्र के गांव कालूपुर निवासी सौदान सिंह यादव का 25 वर्षीय पुत्र रिंकू यादव बीती 19 जुलाई को कस्बा के बुधबाजार में एक डॉक्टर से दवा लेने आया था। इस दौरान बदमाशों ने दिनदहाड़े उसका अपहरण कर लिया था।
अपहर्ताओं ने रिंकू के मोबाइल सेट से उसके परिवार के लोगों को फोन करके 15 लाख रुपये बतौर फिरौती मांगी थी। घटना की तहरीर मिलने पर पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज किया था। महकमे के अधिकारियों ने इस मामले में एसओजी टीम को भी लगा दिया था।
पुलिस ने बताया कि सोमवार को चंदौसी हाइवे पर स्थित गांव संडोला से कार सवार चार बदमाशों को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ करने पर बदमाशों ने अपने नाम दिनेश पंडित निवासी गांव छतुइया कोतवाली उझानी, रतिराम निवासी गांव पश्चिम देवमई, उझानी के अलावा शहर के मोहल्ला पटियाली सराय निवासी सतीश उर्फ टिंकू और गाजियाबाद के भोरपुर निवासी मुकेश बताया। इन लोगों के पास से पुलिस ने रिंकूके दोनों मोबाइल सेट और कपड़े बरामद कर लिए। पकड़े गए बदमाशों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने 20 जुलाई को अलीगढ़ के थाना जमा क्षेत्र में कासिमपुर मार्ग पर रिंकूकी गोली मारकर हत्या करके शव फेंक दिया था। उसके मोबाइल और कपड़े फिरौती वसूलने के लिए रख लिए थे। बदमाश फिरौती की रकम लेने यहां पहुंचे थे और पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। कोतवाल रनवीर सिंह ने बताया कि रिंकूका अपहरण करके उसकी हत्या करने की सुपारी उसकेरिश्तेदार मनोज और मानसिंह निवासी गांव कालूपुर ने दी थी। दोनों पक्षों के बीच क्या रंजिश थी। इसकी जांच की जा रही है।

फिरौती तो बहाना थी
युवक रिंकूकी हत्या के लिए अपहरण से एक हफ्ता पूर्व रंजिश रखने वालों ने सुपारी दे दी थी। इसकी कीमत दो लाख रखी गई थी। भुगतान दो किश्तों में 52 मिल चुका था। इसकेबाद सुपारी देने वाले कन्नी काट गए। जब अपराधी पकड़े गए तब उन्होंने सुपारी देने वाले का नाम कबूल कर लिया। पुलिस तफ्तीश में जुटी है कि किस महिला या युवती से रिंकूके संबंध थे।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

सूरत के कोचिंग संस्थान में लगी आग से 17 छात्रों की मौत, पीएम ने जताया दुख

गुजरात के सूरत में दर्दनाक हादसा हुआ। इस दौरान तक्षशिला कोचिंग संस्थान में भीषण आग लग गई। हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई।

24 मई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree