विज्ञापन
विज्ञापन

जय भोलेनाथ के उद्घोष संग भक्तों ने किया जलाभिषेक

Badaun Updated Tue, 31 Jul 2012 12:00 PM IST
बदायूं। सावन का आखिरी सोमवार पर शिवभक्त कांवरियों और अन्य लोगों ने जय भोलेनाथ के उद्घोष के साथ महादेव का जलाभिषेक किया। कछला गंगाघाट से कांवरियों के जत्थे जल लेकर डीजे साउंड पर थिरकते हुए दूसरे दिन भी लौटते रहे। कांवरियों की सुरक्षा के लिए कछला-बदायूं मार्ग पर पुलिस तैनात रही। इसके अलावा शहर के प्रमुख धार्मिकस्थलों पर पूरे दिन पुलिस तैनात रही। शाम को मंदिरों की भव्य सजावट भी की गई।
विज्ञापन
विज्ञापन
पड़ोसी जिला बरेली में पिछले दिनों हुए उपद्रव की आंच सावन के आखिरी सोमवार को बदायूं तक न पहुंच जाए, इसके लिए पुलिस प्रशासन एक हफ्ते से तैयारी में लगा था। रविवार को कछला गंगाघाट से लाखों कांवरियों का रेला जिला मुख्यालय से शांतिपूर्ण ढंग से गुजर गया था। सोमवार को महारुद्र का जलाभिषेक शांतिपूर्ण ढंग से कराने के लिए रविवार की मध्यरात्रि से ही शहर के बिरुआबाड़ी मंदिर, लाला हरप्रसाद मंदिर, सिद्धपीठ सर्वेश्वर श्रीसाईं मंदिर, नगला शक्तिपीठ और नीलकंठ महादेव समेत प्रमुख मंदिरों पर पुलिस और पीएसी मुस्तैद कर दी गई थी।
ब्रह्ममुहूर्त में शिवालयों के कपाट खुलने के साथ ही हर-हर महादेव के उद्घोष के साथ कांवरियों ने आदिदेव का जलाभिषेक किया। कांवरियों का रेला दूसरे दिन भी चलता रहा, ऐसे में कछला-बदायूं मार्ग पर जगह-जगह पुलिस मुस्तैद रही। कांवरियों के जत्थे ट्रैक्टर-ट्रालियों पर डीजे साउंड लगाकर उन पर भोलेबाबा के भजन बजाते हुए आगे बढ़ रहे थे।
शाम को बिरुआबाड़ी मंदिर के शिवालय की भव्य सजावट की गई। मंदिर के आसपास फूल, धूपबत्ती आदि की दुकानें लगी थीं। ऐसे में वहां का माहौल मेले की तरह ही लग रहा था।

डायवर्जन से बनी जाम की स्थिति
वजीरगंज। कांवरियों की भारी भीड़ को दृष्टिगत रखते हुए आगरा, बरेली, मथुरा, अलीगढ़ और दिल्ली की ओर जाने वाला ट्रैफिक वजीरगंज होते हुए निकाला गया। ऐसे में कस्बा में पूरे दिन जाम की स्थिति बनी रही।

भोलेनाथ मंदिर पर हुआ जलाभिषेक
वजीरगंज। कस्बा के प्राचीन भोलेनाथ मंदिर पर सोमवार की सुबह कांवरियों ने महादेव का जलाभिषेक किया। बीती 17 जुलाई को कस्बा में कांवरियों और बाइक सवार केबीच झगड़े केबाद हुए बवाल केचलते मंदिर पर पीएसी मुस्तैद रही। इसके अलावा पुलिस की एक्शन मोबाइल जीप भी यहां गश्त करती रही।

ऐतिहासिक बुर्राफरीदपुर के मंदिर में किया जलाभिषेक
उझानी। कछला गंगाघट पर रविवार शाम से बदायूं जिले के कांवरियों की भीड़ लगने का सिलसिला शुरू हो गया था। कांवरियों की भीड़ तड़के तक बढ़ती ही गई। हाइवे पर रात भर बम-बम भोले के साथ साउंड सिस्टम की गूंज सुनाई दी। ट्रैक्टर और जुगाड़ वाहनों पर सजी झांकियों की भी धूम रही। कांवरिए नाचते-गाते निकले। कछला और उझानी के बीच रात में कई भंडारे भी चले। इस बार शिवभक्तों में महिलाओं समेत बच्चों की भी खासी भीड़ देखने को मिली। पुलिस ने रूट डायर्वजन के नियमों के तहत रोडवेज समेत भारी वाहनों की बहेडी मोड़ से वितरोई मोड़ तक नहीं निकलने दिया। सुबह से ही मंदिर में जलाभिषेक होने लगा। सर्वाधिक भीड़ बुर्राफरीदपुर के प्राचीन शिव मंदिर में रही। इसके अलावा नगर में पुरानी अनाज मंडी, हजरतगंज, बरामयखेड़ा, कठौली आदि के शिव मंदिरों में शिवभक्त जलाभिषेक करने पहुंचे। साथ ही शिवभक्तों ने पूजा-अर्चना कर पुण्य अर्जित किया।

Recommended

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से
Election 2019

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर
Election 2019

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

जीत के बाद गरजे मोदी- 2 से अब दोबारा आ गए, लेकिन संस्कार नहीं छोड़ेंगे

लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के गठबंधन वाली एनडीए को प्रचंड बहुमत से जीत हासिल हुई है। इस जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में कहा कि हम दो से दोबारा आ गए, लेकिन संस्कार नहीं भूलेंगे।

24 मई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election