विज्ञापन
विज्ञापन

पुलिस के रूट डायवर्जन से यात्रियों की सांसत

Badaun Updated Mon, 30 Jul 2012 12:00 PM IST
बदायूं। सावन के आखिरी सोमवार के एक दिन पूर्व रविवार को पुलिस ने बसों को रोडवेज से दो किलोमीटर पहले से ही वजीरगंज रोड पर मोड़ दिया। इसके चलते शहर केलोगों के अलावा अन्य यात्रियों को भी पैदल जाना पड़ा अथवा अतिरिक्त रकम खर्च कर रोडवेज पहुंचना पड़ा। पुलिस ने रूट डायवर्जन कांवरियों की भीड़ को देखते हुए किया। इसे सोमवार के लिए बनाए गए प्लान के तहत रिहर्सल भी माना।
विज्ञापन
विज्ञापन
रूट डायवर्जन के तहत बरेली से मथुरा, आगरा, अलीगढ़ और दिल्ली जाने वाली रोडवेज बसें शहर से दो किलोमीटर पहले खेड़ा नवादा से चंदौसी हाइवे की ओर रवाना कर दी गईं। इसके चलते शहर के विभिन्न मोहल्लों में रहने वाला मुसाफिरों को घर पहुंचने के लिए रिक्शा और टेंपो में अतिरिक्त रकम खर्च करना पड़ी। पुलिस ने नवादा में ही बैरियर लगाकर जहां बरेली से आने वाली बसों को मोड़ा, वहीं मेरठ, आगरा, अलीगढ़ से आने वाली बसों को बिल्सी होते हुए बरेली के लिए गुजारा गया।
पुलिस के डायवर्जन से बरेली की ओर से आने वाले शहर के मुसाफिरों को नवादा पर ही उतरना पड़ा और वहां से रिक्शा, टेंपो में बैठकर अपने घर जाना पड़ा। इससे मुसाफिरों की जेब पर अतिरिक्त भार पड़ा। पुलिस अफसरों का कहना है कि ऐसा न करने पर शहर के भीतर काफी दबाव बढ़ जाता और सुरक्षा खतरे में पड़ जाती। जिन सड़कों से कांवरियों को बिनावर होते हुए बरेली के लिए और जिले के ही विभिन्न शिवालयों की ओर भेजा जा रहा है, वहां भी पूरे रास्ते पुलिस चौकसी करनी पड़ रही है। मोबाइल पुलिस के अलावा खुफिया और पुलिस के जवान कांवरियों केरंग में शामिल होकर चल रहे हैं। ताकि खुराफातियों पर नजर रखी जा सके। शहर के भीतर चौराहों और धार्मिकस्थलों पर लगे कैमरों से भी निगरानी की जा रही है।
सुरक्षा के मामले में एएसपी सिटी पियूष श्रीवास्तव का कहना है कि रविवार और सोमवार ही पुलिस के लिए परीक्षा की घड़ी है। इसमें केवल दो समुदायों का ही मामला नहीं है बल्कि कांवरियों में शामिल खुराफातियों को भी खोजा जा रहा है। इसी लिहाज से सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है, सोमवार को इसमें और चौकसी रहेगी।

चप्पे-चप्पे पर तैनात रही पुलिस-पीएसी

कछला मेले और कांवरियों की सुरक्षा के मद्देनजर बदायूं-कछला मार्ग पर चप्पे-चप्पे पर पुलिस और पीएसी मुस्तैद रही। कांवरियों की सुरक्षा के लिए एक कंपनी पीएसी के अलावा जिले के आठ थानों की पुलिस लगाई गई थी। खुराफातियों पर नजर रखने के लिए कांवरियों के मार्ग पर प्रमुख चौराहों और धार्मिकस्थलों के पास लगे सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जा रही है। रात के समय ट्रैफिक कम होने के बावजूद चौकसी में ढिलाई नहीं होगी।

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा,  पाएं पूरा समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
ज्योतिष समाधान

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा, पाएं पूरा समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

पति रणवीर सिंह को इस वजह से Cannes Festival में साथ लेकर नहीं गईं थीं दीपिका पादुकोण

एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण कान में स्टाइलिश लुक बिखेरने के बाद वापिस लौट आई हैं। लेकिन जब दीपिका पादुकोण से पूछा गया कि वो कान में रणवीर सिंह को साथ लेकर क्यों नहीं गईं तो इसपर दीपिका पादुकोण ने बड़ा मजेदार जबाव दिया।

21 मई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election