जुर्माना रकम से घायल को मिलेंगे 75 हजार रुपये

Badaun Updated Wed, 18 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

बदायूं। जिले की तृतीय अपर सेशन कोर्ट ने जानलेवा हमला करने के मामले में दो सगे भाइयों समेत चार नामजद आरोपियों को सात-सात वर्ष की कड़ कैद की सजा सुनाई है। फैसला सुनाने के दौरान अपर सेशन जज शैलेश्वर नाथ सिंह ने आरोपियों पर 26-26 हजार रुपये का जुर्माना डाला है। हमले में घायल श्रीपाल सिंह को जुर्माना राशि में से 75 हजार रुपये बतौर मुआवजा देने का आदेश दिया है।
विज्ञापन

घटना थाना वजीरगंज क्षेत्र केगांव अमरोली की है। संपत्ति के बंटवारे की रंजिश में 20 मई 2002 को श्रीपाल सिंह के पुत्र नजा को आरोपियों के परिवार के लोगों ने गोली मारकर घायल कर दिया। श्रीपाल का पुत्र धर्मवीर नजा को लेकर वजीरगंज थाने गया था। इस दौरान आरोपी सुरेश अपने भाई दिनेश और परिवार के ही प्रेमचंद्र एवं मनोज के साथ वहां पहुंचा। उस समय श्रीपाल घर के दरवाजे पर बैठे थे। तभी आरोपियों ने श्रीपाल को गोली मारकर घायल कर दिया था बाद में उस पर लाठियों से कई प्रहार किए। दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद श्रीपाल और नजा पर जानलेवा हमला करने के आरोप में दोषी पाकर कोर्ट ने सभी को सात-सात वर्ष की कैद और जुर्माना की सजा सुनाई है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us