स्कूल चलो अभियान का सच हाउस होल्ड सर्वे करेगा तय

Badaun Updated Wed, 18 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

बदायूं। परिषदीय विद्यालयों में बच्चों की संख्या में इजाफा हुआ या नहीं, कितने बच्चे स्कूल छोड़े इन तमाम सवालों के जवाब अब सामने आने वाले हैं। इसके लिए हाउस होल्ड सर्वे शुरु होने जा रहा है। यह स्कूल चलो अभियान के बाद शुरू होगा। इस बार आउट ऑफ स्कूल बच्चों की संख्या कम आंकी जा रही है। इसके लिए बेसिक शिक्षा विभाग तमाम कार्यक्रम आयोजित कर बच्चों का नामांकन करा रहा है।
विज्ञापन

हर साल स्कूल चलो अभियान के तहत रैलियां निकाली जाती हैं। गोष्ठियों का आयोजन होता है। नुक्कड़-नाटक होते हैं। इन कार्यक्रमों पर लाखों रुपये खर्च होते हैं, लेकिन नतीजा सिफर। आउट ऑफ स्कूल बच्चों की संख्या लगातार बढ़ती गई और अभियान का झटका लगता रहा। इसका पर्दाफाश हर साल होने वाले हाउस होल्ड सर्वे में हुआ। इस बार अगस्त माह से यह सर्वे शुरू होने जा रहा है। बेसिक शिक्षा परिषद ने निर्देश दिए हैं कि आउट ऑफ स्कूल बच्चों की संख्या सही होनी चाहिए। सर्वे में कोई लापरवाही न हो। यह सर्वे 42 बिंदुओं पर होगा। इसमें कितने बच्चे स्कूल से जुड़े, कितनों ने स्कूल छोड़ा, विकलांग बच्चे कितने, छात्राओं की संख्या आदि शामिल होंगे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us