विज्ञापन

अवैध कटान में ठेकेदार समेत मालिक पर कार्रवाई

Badaun Updated Tue, 17 Jul 2012 12:00 PM IST
उझानी(बदायूं)। रौली गांव के पास बाग से आम के एक दर्जन से अधिक पेड़ काट लिए जाने के मामले को वन महकमा ने सोमवार को संज्ञान में ले लिया। हालांकि ठेकेदार की शह पर बाग मालिक ने सबूत मिटाने की नीयत से खेत को जुतवा दिया है लेकिन महकमे ने ठेकेदार समेत बाग मालिक पर केस कर दिया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
रेंजर एसके श्रीवास्तव ने बताया कि बाग से आम के सूखे चार या पांच पेड़ काटने का ठेकेदार ने परमिट बनवाया था। जबकि काटे गए पेड़ों की संख्या अधिक रही। पेड़ भी हरे भरे थे। वन कर्मियों की टीम मौके पर भेजकर इसकी सच्चाई का भी पता लगवा लिया गया। ठेकेदार और बाग मालिक के खिलाफ महकमे ने मामला दर्ज कर लिया है। साथ ही महकमा काटे गए आम के पेड़ों की लकड़ी बरामदगी के प्रयास में है। यहां बता दें कि रविवार को गांव रौली के एक व्यक्ति के गढ़ी-रिसौली रोड स्थित बाग से आम के पेड़ों को कटान हुआ था। बाग में अब महज चार पेड़ ही बचे हैं।
इस बीच सोमवार को लोग मौके पर पहुंचे तो उन्हें बाग में वह पूरी जगह जुती हुई मिली जहां आम के पेड़ थे। देखने से अब ऐसा भी नहीं लगता कि कभी बाग रहा होगा। ऐसा सबूत मिटाने के नीयत से किया गया है। यहां बता दें कि प्रशासन इन दिनों स्कूलों में पौधारोपण का अभियान चलाकर धरती पर हरियाली की बहाली को भी अभियान चला रहा है। वहीं दूसरी ओर हरियाली को नष्ट करने के लिए वन माफिया जुटे हुए हैं।

सिकंदराबाद और मढिया में भी कटे पेड़
कोतवाली क्षेत्र के गांव कुआडंाडा के मजरा मढिया में सुभाष गिरि के खेत में खड़ा आम का पेड़ सोमवार सुबह कटा पड़ा मिला। इसे इलाके के ही एक ठेकेदार ने बिना परमिट कटवा दिया लेकिन लकड़ी नहीं उठवा पाया है। जबकि मुजरिया क्षेत्र के गांव सिकंदाराबाद में नीम के चार पेड़ काटे गए हैं। दोनों प्रतिबंधित प्रजाति के पेड़ हैं।

भूमिका पर भी उठा सवाल
रौली गांव के पास बाग में आम के पेड़ों को काटे जाने की सूचना पुलिस को रविवार पूर्वाह्न ही मिल गई थी। बावजूद इसके पुलिस मौके पर नहीं पहुंची और न ही ठेकेदार को बुलाकार परमिट देखने की कोशिश की गई। बताते हैं कि पुलिस अगर वास्तविकता को देखती तो अवैध कटान की लकड़ी बरामद हो जाती या फिर कुछ पेड़ बच भी सकते थे।

Recommended

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

सैम पित्रोदा ने एयर स्ट्राइक पर खड़े किए सवाल, पीएम मोदी ने किया पलटवार

राहुल गांधी के करीबी और इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के प्रमुख सैम पित्रोदा ने एयर स्ट्राइक में मारे गए आंतकियों की संख्या को लेकर सवाल उठाए है। जिसको लेकर एक बार फिर राजनितिक माहौल गरमा गया है।

22 मार्च 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree