विज्ञापन

घर में झुलसकर मां-बेटे की मौत

Badaun Updated Tue, 17 Jul 2012 12:00 PM IST
उझानी(बदायूं)। एक महिला की मासूम बेटे समेत उसी के घर में सोमवार की शाम संदिग्ध परिस्थितियों में झुलसकर मौत हो गई। सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची और आसपास के लोगों से मामले की जानकारी हासिल की। हालांकि इससे पहले मोहल्ले के लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई थी। भीड़ ने ही कमरे का दरवाजा तोड़ा और दोनों की लाश बाहर निकालीं। कमरे में सुलग रही आग को भी ग्रामीणों ने बुझाया। देर रात तक पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी नजर आई।
विज्ञापन
विज्ञापन
यह मामला कस्बा से सटे कोतवाली क्षेत्र के गांव मानकपुर का है। बरेली में तैनात पुलिस कर्मी हरीराम का परिवार गांव में ही रहता है। उसके मझले पुत्र बबलू की पत्नी लक्ष्मी और उसका मासूम बेटा तीन वर्षीय हिमांशु घर पर ही रहता था। जबकि बबलू बरेली में प्राइवेट नौकरी करता है। बताते हैं कि सोमवार शाम करीब साढ़े पांच बजे मोहल्ले के लोगों ने हरीराम(मृतका का ससुर) के घर में धुआं उठता देखा। कई लोग अंदर घुस गए। उन्होंने जिस कमरे से धुंआ निकल रहा था उसकी अंदर से बंद किवाड़ों को तोड़ डाला।
देखा तो लक्ष्मी और हिमांशु बिस्तर पर बुरी तरह से झुलसे पड़े थे। बाहर निकालने से पहले ही दोनों की मौत हो गई। प्रधान इरफान ने पुलिस को फोन कर दिया। पुलिस मौके पर पहुंची तो मां-बेटा के शव चारपाई पर रखे मिले। कोतवाल मुकेश सक्सेना ने बताया कि मां-बेटे की मौत का मामला अभी संदिग्ध बना हुआ है। मृतका का ससुर हरीराम और देवर भी पुलिस में हैं। मायका बदायूं में बताया गया। उसके पिता पुलिस में दरोगा की नौकरी से सेवानिवृत हो चुके हैं। मृतका के पिता और ससुर को पुलिस ने जानकारी दी है। बबलू की शादी करीब पांच साल पहले हुई थी।

ग्रामीण करने लगे तमाम तरह की चर्चा
मां-बेटा की संदिग्ध मौत को लेकर ग्रामीणों ने पुलिस के पूछने पर भी कोई खास जानकारी नहीं दी। बावजूद इसके लोग दबी जुबान तरह-तरह की चर्चा करते दिखे। बताया जा रहा है कि मृतका का पति सोमवार को गांव में ही था। उसके भाई की पत्नी भी घर पर ही थी लेकिन पुलिस को कोई भी मौके पर नहीं मिला।

Recommended

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

जम्मू-कश्मीर के सोपोर में सीआरपीएफ कैंप पर आतंकी हमला सहित 5 बड़ी खबरें

अमर उजाला डॉट कॉम पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें। देखिए LIVE BULLETINS - शाम 5 बजे।

21 मार्च 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree