विज्ञापन

‘वार्ताकारों की सिफारिशें अलगाववाद को देंगी बढ़ावा’

Badaun Updated Sat, 07 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। जम्मू कश्मीर बचाओ संघर्ष समिति की ओर से शुक्रवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं उसके सहयोगी देशभक्त संगठनों द्वारा मालवीय आवास पर धरना-प्रदर्शन किया और राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन डीएम को दिया। यह जम्मू-कश्मीर समस्या के समाधान के लिए केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त वार्ताकारों की रिपोर्ट खारिज करने की मांग कर रहे थे।
विज्ञापन
मुख्यवक्ता सर्वेश कुमार पाठक ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त वार्ताकारों ने जम्मू कश्मीर की 80 प्रतिशत जनसंख्या की इच्छाओं और जरूरतों की अनदेखी कर मात्र 20 प्रतिशत लोगों की भारत विरोधी मांगों के आधार पर रिपोर्ट बनाई गई है। भाजपा जिलाध्यक्ष प्रेमस्वरुप पाठक ने कहा कि वार्ताकारों की सिफारिशें अलगाववाद को बढ़ाने वाली हैं। इन्होेंने एनसीपीडीपी हुर्रियत के आगे घुटने टेककर पाकिस्तान प्रेरित अलगाववाद को संवैधानिक मान्यता देने की कोशिश की है। पूर्व नगर विधायक महेश चंद्र गुप्ता ने कहा कि जम्मू कश्मीर को भारत का अभिन्न अंक बनाए रखने के लिए डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने अपना बलिदान देकर जो जमीन तैयार की उस जमीन को बंजर बनाने के लिए वार्ताकारों ने अपनी रिपोर्ट दी है। उस रिपोर्ट को लागू करने के विरोध में भारत के देशभक्त संगठनों के हजारों कार्यकर्ता अपना बलिदान देकर भी जम्मू कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाए रखने के लिए तत्पर रहेंगे।
विद्या भारती के सुभाष गौड़, पूर्व विधायक अवनीश कुमार सिंह उर्फ पप्पू भइया, राणा प्रताप सिंह, हरीश शाक्य, ओमप्रकाश मथुरिया, माखनलाल राजपूत आदि ने भी विचार रखे।
इस मौके पर दीपमाला गोयल, हरचरन लाल सक्सेना, मुन्नालाल शुक्ला, उज्जवल गुप्ता, डॉ. नवरत्न सिंह, मुन्ने सिंह आंचल, जगपाल सिंह, मदनलाल राजपूत, उमाकांत, सतीश कुमार, लोकेंद्र नाथ शर्मा, राजेश त्रिपाठी, डॉ. रविशरण सिंह चौहान, होडिल सिंह, सुरेश कुमार सिंह, मुनीश अग्रवाल, राजकुमार सिंह सेंगर आदि रहे। संचालन स्वतंत्र प्रकाश गुप्ता ने किया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us