विज्ञापन

फिर दो कक्ष में पढे़ेंगे पांच तक के विद्यार्थी

Badaun Updated Sat, 30 Jun 2012 12:00 PM IST
बदायूं। सरकारी स्कूलों में इस बार भी दो कक्षों में पांच तक के विद्यार्थी पढ़ेंगे। ऐसे स्कूलों की संख्या 210 है। जबकि शासन ने इन स्कूलों में अतिरिक्त कक्ष बनाने के आदेश दिए थे और रकम भी जारी हुई थी। विभागीय सूत्र बताते हैं कि निर्माण में हो रहे खेल के कारण लेटलतीफी हो रही है। जबकि अधिकारियों का तर्क है निर्माण के लिए दूसरी किश्त मई माह में मिली है।
विज्ञापन
विज्ञापन
जिले में प्राइमरी स्कूलों की संख्या लगभग 2100 है। यह स्कूल नए सिरे से बनते हैं तो उसके लिए दो कक्ष बनते हैं। तमाम स्कूलों में दो कक्ष ही चले आ रहे हैं। जबकि विद्यार्थियों की संख्या अधिक है। इस तरह कक्षा पांच तक के विद्यार्थी दो ही कक्षों में बैठकर पढ़ाई करते आ रहे हैं। इससे शिक्षण कार्य भी प्रभावी नहीं हो पाता। इसका पर्दाफाश एक सर्वे में भी हुआ था। उसमें कहा गया था कि एक कक्ष में 30 से अधिक विद्यार्थी यदि बैठते हैं तो शिक्षण कार्य प्रभावित होता है।
पिछले वर्ष 2011-12 में 300 अतिरिक्त कक्षा कक्ष के लिए लगभग साढ़े छह करोड़ रुपये की मंजूरी मिली थी। इसमें 90 कक्षों का निर्माण तो पूरा हो गया, लेकिन 210 का अभी नहीं हो सका है। इससे फिर बच्चों को बैठने की परेशानी होगी। बीएसए कृपाशंकर वर्मा का कहना है कि अतिरिक्त कक्ष के निर्माण के लिए दूसरी किश्त मई माह में मिली थी, कार्य चल रहा है। शीघ्र ही पूरा हो जाएगा।

Recommended

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे
ADVERTORIAL

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

लखनऊ की सडकों पर उतरे पीआरडी जवान, कहा मांग पूरी ना होने पर करेंगे ये काम

प्रदेश भर से लखनऊ पहुचे प्रांतीय रक्षक दल के जवानों ने हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान हजारों की संख्या में जवान मुख्यमंत्री आवास जाने के लिए निकले। लेकिन पुलिस बल ने उन्हें रोक लिया।

17 जनवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree