'My Result Plus

छह साल बाद शुरू हुई सोलर सिंचाई पंप योजना

Badaun Updated Thu, 28 Jun 2012 12:00 PM IST
बदायूं। वर्ष 2005-06 में अनुदान समाप्त हो जाने के बाद बंद हो गई सोलर सिंचाई पंप स्थापना योजना की शुरूआत फिर से की गई है। इसके लिए यूपी नेडा ने आवेदन जमा करने शुरू कर दिए हैं। उधर, इस योजना के दोबारा शुरू होने से किसानों में खासा उत्साह है।
नेडा ने वर्ष 2003-04 व 2004-05 में दो हार्स पॉवर क्षमता के 11 सोलर पंप सिंचाई कार्य के लिए किसानों को अनुदान पर दिए थे। जिस पर किसान को अनुदान के बाद 70 हजार 140 रुपये अंशदान के तौर पर जमा करने थे। इस योजना किसानों ने बेहद पसंद की और कई किसानों ने वर्ष 2005-06 में अग्रिम अशंदान जमा कर दिया। मगर, बाद में अनदुान प्राप्त न होने पर इन किसानों के अंशदान को वापस करना पड़ा था। इधर, कई साल बाद एक बार फिर नेडा ने यह योजना शुरू की है और किसानों से आवेदन मांगे जा रहे हैं।

किसानों को मिलेगा 90 फीसदी तक अनुदान
लघु और सीमांत कृषकों को दो हार्स पॉवर क्षमता के सोलर पंप पर 90 फीसदी तक अनुदान मिलेगा। इस पंप की अनुमानित लागत 3.52 लाख है और उस पर प्रस्तावित अनुदान 3.07 लाख है। किसानों को 45 हजार रुपये का अंशदान जमा करना होगा। इसके अलावा बड़े कृषकों को पांच हार्स पॉवर क्षमता का सोलर पंप 60 फीसदी तक अनुदान दिया जाएगा। इसकी अनुमानित कीमत 9.60 लाख रुपये है, जिस पर 5.70 लाख प्रस्तावित अनुदान है। किसानों को अंशदान के रूप में 3.90 लाख जमा करने होंगे।

यह पंप बिना किसी ईंधन के सोलर पंप से चलेगा और इस पर काफी अनुदान है, इसलिए यह योजना किसानों को काफी पसंद आ रही है। इच्छुक कृषक किसी भी दिन दफ्तर में पहुंचकर आवेदन कर सकते हैं।
पीआर सरोज, परियोजना अधिकारी, यूपीनेडा

Spotlight

Related Videos

VIDEO: इस वजह से कांग्रेस पर भड़के सीएम योगी, कहा देश से माफी मांगे राहुल गांधी

सुप्रीम कोर्ट की ओर से जज बीएच लोया की मौत पर एसआईटी जांच की मांग को खारिज किए जाने के फैसले पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा।

20 अप्रैल 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen