विज्ञापन

35 कर्मचारियों को चार माह से नहीं मिला वेतन

Badaun Updated Thu, 21 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। इस्लामियां इंटर कालेज के 35 कर्मचारियों को चार माह से वेतन नहीं मिला। यह स्थिति तब बनी जब एकल संचालन और कंट्रोलर की तैनाती की गई। अब इस पर कोर्ट से स्टे मिल गया है। वेतन न मिलने से कर्मचारियों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। विभाग के अधिकारी सुनने को तैयार नहीं हैं। अधिकारियों का कहना है कि उच्चाधिकारियों से वेतन के लिए आदेश मांगे गए हैं। उसके बाद ही समस्या का समाधान होगा।
विज्ञापन

विदित हो कि पिछले कई सालों से कालेज में प्रबंधकीय विवाद चला आ रहा है। उसके बाद जिला विद्यालय निरीक्षक ने कालेज का एकल संचालन कर दिया। उसके बाद संयुक्त शिक्षा निदेशक बरेली के आदेश पर कंट्रोलर नियुक्त कर दिया गया, लेकिन कमेटी से जुड़े लोग कोर्ट चले गए और दोनों प्रक्रिया पर स्टे मिल गया। यह प्रक्रिया कई महीने से चली आ रही थी। इसी के चलते कर्मचारियों का वेतन फंस गया।
कालेज में लगभग 35 कर्मचारी तैनात हैं। इसमें प्रवक्ता, शिक्षक, लिपिक, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी आदि शामिल हैं। फरवरी माह से इनका वेतन नहीं निकला। जबकि बिल लगातार विभाग को मिलते रहे। अधिकारियों ने यह तय नहीं किया कि वेतन दिया जाए या नहीं। इसके कारण कर्मचारियों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया। कर्मचारियों ने तमाम बार अधिकारियों को अवगत कराया, लेकिन समस्या कम होने के बजाय बढ़ती गई। नाम न छापने की शर्त पर एक कर्मचारी ने बताया कि जिला स्तरीय अधिकारी जान-बूझकर वेतन रोके हुए हैं। यदि वह चाहें तो वेतन मिल सकता है। घर खर्च कर्ज पर रकम लेकर चला रहे हैं। डीआईओएस सुशीला अग्रवाल का कहना है कि वेतन किस स्थिति में निकाला जाए, इसके लिए जेडी से मार्गदर्शन मांगा गया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us