विज्ञापन

प्रत्याशी का फर्जी निकला पिछड़ी जाति प्रमाणपत्र

Badaun Updated Thu, 21 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। वजीरगंज नगर पंचायत अध्यक्ष पद की उम्मीदवार राजेश्वरी का प्रकरण गंभीर हो गया है। नामांकन पत्र के साथ दाखिल हुए आय एवं जाति प्रमाण पत्र के फर्जी होने की शिकायत की जांच एसडीएम व तहसीलदार से कराई गई तो प्रत्याशी का जाति प्रमाणपत्र फर्जी निकला है। तहसीलदार ने प्रमाणपत्र के निरस्त करने की संस्तुति कर दी है। इधर, यह मामला डीएम की अध्यक्षता वाली प्रशासनिक कमेटी के सामने रखा जाएगा। इसके बाद ही इस पर कोई कार्रवाई हो सकेगी।
विज्ञापन

वजीरगंज के ही निवासी विजय राजे यादव ने चेयरमैन का चुनाव लड़ रहीं राजेश्वरी पत्नी कुलदीप के खिलाफ डीएम/ जिला निर्वाचन अधिकारी को शिकायत की थी कि राजेश्वरी देवी ने नामांकन पत्र के साथ जो जाति व आय प्रमाणपत्र लगाया है, वह फर्जी है। मामले की जांच बिसौली एसडीएम व तहसीलदार से कराई गई। जांच में यह पाया गया है कि राजेश्वरी सामान्य वर्ग की हैं, इसके बावजूद उन्होंने फर्जी तरीके से पिछड़ी जाति का प्रमाणपत्र बनवाया है। इसके अलावा उनकी उम्र को बताने वाला दस्तावेज भी संदिग्ध है। एडीएम प्रशासन / उप जिला निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि यह बिसौली से यह रिपोर्ट मिल गई है। इसे डीएम की अध्यक्षता वाली प्रशासनिक कमेटी के सामने रखा जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us