विज्ञापन

दो घरों से जेवरात समेत करीब डेढ़ लाख की चोरी

Badaun Updated Sun, 17 Jun 2012 12:00 PM IST
उझानी(बदायूं)। शुक्रवार की रात चोरों ने एक घर को निशाना बनाया। जाते वक्त गृहस्वामी की पुत्रवधू ने एक चोर को पहचान लेने की बात कही तो चोरों ने दंपति का सिर फोड़ डाला। इससे पहले बृहस्पतिवार की रात को भी बसपा नेता के भाई का घर चोरों का शिकार हो गया था। घटना को अंजाम देने के बाद चोर जेवरात निकाल कर खाली बक्शा गौशाला के पास खेत में फेंक गए।
विज्ञापन
विज्ञापन
संजरपुर रोड निवासी महेंद्र राठौर के घर में चोर शुक्रवार रात करीब डेढ़ बजे बाहरी दीवार पर सीढ़ी लगाकर चढ़े। उस वक्त गृहस्वामी की पूत्रवधू मधु और पुत्र दुर्वेश आंगन में सो रहे थे। जबकि अन्य परिजन छत पर थे। घर में कमरा खोलकर अलमारी से 20 हजार रुपये और मधु के जेवर निकाल लिए। चोरों की आहत सुनकर जागी मधु ने शोर मचा दिया। उसका पति भी चीखने लगा। चोरों ने मधु और दुर्वेश की पिटाई कर लोहे की रॉड से दोनों के सिर फोड़ दिए। बाद में घायल मधु ने एक चोर का नाम भी पुलिस को बताया। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। इससे एक दिन पहले कछला रोड की नई बस्ती निवासी बसपा नेता मुकेश शर्मा के भाई अमित के घर में चोर घुस आए। अमित ने बताया कि जिस बक्शे को चोर उठा ले गए, उसमें उसकी पत्नी के जेवरात और नगदी रखी हुई थी। अगली सुबह में खाली बक्शा गौशाला के पास खेत में पड़ा मिला।

Recommended

जम्मू कश्मीर में 20 साल में सबसे बड़ा आतंकी हमला, विस्तृत कवरेज यहां पढ़ें
Pulwama Exclusive

जम्मू कश्मीर में 20 साल में सबसे बड़ा आतंकी हमला, विस्तृत कवरेज यहां पढ़ें

मोक्ष और अभय की कामना को पूर्ण करने के लिए शिवरात्रि पर ज्योतिर्लिंग काशी विश्वनाथ मंदिर में करवाएं विशेष शिव पूजा
ज्योतिष समाधान

मोक्ष और अभय की कामना को पूर्ण करने के लिए शिवरात्रि पर ज्योतिर्लिंग काशी विश्वनाथ मंदिर में करवाएं विशेष शिव पूजा

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

पुलवामा के शहीदों के परिवारों की मदद को आगे आया रिलायंस फाउंडेशन

पुलवामा में हुए आतंकी हमले ने पूरे देश को हिला दिया है। शहीद हुए परिवारों की मदद के लिए रिलायंस फाउंडेशन के मालिक मुकेश अंबानी ने शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के बच्चों की पढ़ाई से लेकर उनकी नौकरी की पूरी जिम्मेदारी लेने की घोषणा कर दी है।

16 फरवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree