विज्ञापन

दबिश में दूसरे लोग साथ हुए तो नपेंगे थानेदार

Badaun Updated Fri, 15 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। कच्ची दारू की धरपकड़ केलिए आबकारी विभाग की टीम द्वारा की जाने वाली छापामारी में टीम के साथ शराब ठेकेदार के निजी लोग यदि छापामारी करते हैं तो संबंधित थानेदार को निलंबित किया जाएगा। एसपी मंजिल सैनी ने बृहस्पतिवार को जिले के सभी थानेदारों को यह आदेश जारी किया है। आदेश का पालन न करके ठेकेदार के लोगों केसाथ छापामारी में सहयोग देने पर संबंधित थानेदार को निलंबित कर दिया जाएगा।
विज्ञापन
विदित हो कि बुधवार को आबकारी विभाग की टीम ने थाना कादरचौक क्षेत्र केगांव धनुपुरा में कच्ची शराब के खिलाफ छापामारी की थी। आबकारी टीम के साथ थाने की पुलिस, डेढ़ सेक्शन पीएसी और महिला पुलिस भी गई थी। इसके अलावा शराब ठेकेदार के निजी लोग भी छापामारी में अपने लाइसेंसी शस्त्र लेकर पहुंचे थे। गांव में घुसने केबाद कच्ची दारू केधंधे से जुड़े लोगों ने टीम पर फायरिंग कर दी।
इसके चलते आबकारी टीम समेत पुलिस और पीएसी के जवान भी भाग खड़े हुए। फायरिंग में इटावा के औरेया निवासी सरदार नाम का एक युवक घायल हो गया था। इस मामले में आबकारी निरीक्षक एके मिश्रा की तहरीर पर पुलिस ने धनुपुरा के अज्ञात लोगों के नाम जानलेवा हमला करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। वहीं सरदार के रिश्तेदार ने भी पुलिस को तहरीर देकर टीम में शामिल कुछ युवकों द्वारा की गई फायरिंग में सरदार को गोली लगने की बात कही थी।
टीम में ठेकेदार के निजी लोगों के शामिल रहने की घटना को एसपी ने गंभीरता से लिया है। दूसरे दिन बृहस्पतिवार को एसपी ने जिले के सभी थानेदारों को आदेश जारी किया है। इसके तहत आबकारी टीम की दबिश में थाने से पर्याप्त पुलिस बल साथ जाएगा लेकिन ठेकेदार के लोग नहीं जाएंगे। एसपी ने कहा कि ठेकेदार के लोगों के दबिश में साथ जाने की खबर मिलने पर संबंधित थानेदार को निलंबित किया जाएगा। एएसपी सिटी पियूष श्रीवास्तव ने बताया कि सभी थानों को आदेश भेजा जा चुका है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

जिसे अंग्रेजों ने हथकड़ी पहना कर घुमाया वो बना मध्यप्रदेश का पहला मुख्यमंत्री

मध्य प्रदेश के गठन के बाद 1 नवंबर 1956 को रविशंकर शुक्ल को राज्य का प्रथम मुख्यमंत्री चुना गया। इन्होंने आम जनता के हित के लिए बहुत से विकास कार्य किये और लोगों की समस्याओं को समझा और निवारण किया।

16 अक्टूबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree