दबिश में दूसरे लोग साथ हुए तो नपेंगे थानेदार

Badaun Updated Fri, 15 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

बदायूं। कच्ची दारू की धरपकड़ केलिए आबकारी विभाग की टीम द्वारा की जाने वाली छापामारी में टीम के साथ शराब ठेकेदार के निजी लोग यदि छापामारी करते हैं तो संबंधित थानेदार को निलंबित किया जाएगा। एसपी मंजिल सैनी ने बृहस्पतिवार को जिले के सभी थानेदारों को यह आदेश जारी किया है। आदेश का पालन न करके ठेकेदार के लोगों केसाथ छापामारी में सहयोग देने पर संबंधित थानेदार को निलंबित कर दिया जाएगा।
विज्ञापन

विदित हो कि बुधवार को आबकारी विभाग की टीम ने थाना कादरचौक क्षेत्र केगांव धनुपुरा में कच्ची शराब के खिलाफ छापामारी की थी। आबकारी टीम के साथ थाने की पुलिस, डेढ़ सेक्शन पीएसी और महिला पुलिस भी गई थी। इसके अलावा शराब ठेकेदार के निजी लोग भी छापामारी में अपने लाइसेंसी शस्त्र लेकर पहुंचे थे। गांव में घुसने केबाद कच्ची दारू केधंधे से जुड़े लोगों ने टीम पर फायरिंग कर दी।
इसके चलते आबकारी टीम समेत पुलिस और पीएसी के जवान भी भाग खड़े हुए। फायरिंग में इटावा के औरेया निवासी सरदार नाम का एक युवक घायल हो गया था। इस मामले में आबकारी निरीक्षक एके मिश्रा की तहरीर पर पुलिस ने धनुपुरा के अज्ञात लोगों के नाम जानलेवा हमला करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। वहीं सरदार के रिश्तेदार ने भी पुलिस को तहरीर देकर टीम में शामिल कुछ युवकों द्वारा की गई फायरिंग में सरदार को गोली लगने की बात कही थी।
टीम में ठेकेदार के निजी लोगों के शामिल रहने की घटना को एसपी ने गंभीरता से लिया है। दूसरे दिन बृहस्पतिवार को एसपी ने जिले के सभी थानेदारों को आदेश जारी किया है। इसके तहत आबकारी टीम की दबिश में थाने से पर्याप्त पुलिस बल साथ जाएगा लेकिन ठेकेदार के लोग नहीं जाएंगे। एसपी ने कहा कि ठेकेदार के लोगों के दबिश में साथ जाने की खबर मिलने पर संबंधित थानेदार को निलंबित किया जाएगा। एएसपी सिटी पियूष श्रीवास्तव ने बताया कि सभी थानों को आदेश भेजा जा चुका है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us