विज्ञापन

धोखाधड़ी में बैंक प्रबंधक समेत पांच नामजद

Badaun Updated Thu, 14 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
उझानी(बदायूं)। उत्तर प्रदेश ग्राम विकास बैंक लिमिटेड से जुड़े ऋण संबंधी एक मामले में कादरचौक क्षेत्र के गांव जलालपुर निवासी किसान ने प्रबंधक और पूर्व प्रबंधक समेत पांच कर्मियों के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।
विज्ञापन

बुधवार को यहां कोतवाली में कोर्ट के आदेश पर दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक- कादरचौक क्षेत्र के गांव जलालपुर निवासी महेंद्र पाल ने वर्ष-2003 में ट्रैक्टर के लिए तीन लाख 50 हजार रुपये का उत्तर प्रदेश ग्राम विकास बैंक की स्थानीय शाखा से ऋण लिया था। ऋण की अधिकांश रकम बैंक में जमा भी कर दी गई। आरोप हें कि बैंक महेंद्र पर अधिक रकम बकाया दर्शाती रही। पिछले महीनों से दो लाख 93 हजार रुपये बकाया जमा करने का नोटिस मिला। महेंद्र की मानें तो चार मार्च को वह अपने पुत्रों के साथ ट्रैक्टर से बैंक के सामने होकर निकला तो बैंक प्रबंधक समेत कर्मियों ने अभद्रता की।
बकाया और अभद्रता को लेकर महेंद्र ने कोर्ट की शरण ली। वरिष्ठ उप निरीक्षक रामनरेश चौधरी ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर दर्ज रिपोर्ट में बैंक प्रबंधक ललित कुमार, पूर्व प्रबंधक उमेशचंद्र पांडेय, फील्ड आफीसर जगदंबा प्रसाद, खजांची दयाराम और अमीन ओमप्रकाश शामिल हैं। इधर, पूछे जाने पर बैंक प्रबंधक ललित कुमार ने बताया कि मामला उनके कार्यकाल का नहीं है। महेंद्र बैंक का बकाएदार है। उसके साथ अभद्रता नहीं की गई बल्कि नोटिस भेजा गया था।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us