विज्ञापन

अपात्रों को मिल रहा था गरीबों का सस्ता खाद्यान्न

Badaun Updated Mon, 11 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
अनूप गुप्ता
विज्ञापन
बदायूं। गरीबों का बीपीएल व अंत्योदय का सस्ता अनाज पाने के लिए जिले में आठ हजार से ज्यादा फर्जी राशनकार्ड चल रहे थे। इस खुलासा तब उजागर हुआ, जब प्रशासन ने जिलेभर के राशनकार्डों का सत्यापन कराया। फर्जी राशनकार्डों का यह आंकड़ा तो सिर्फ सरकारी सत्यापन के आधार पर सामने आया है, जबकि अभी भी बड़ी तादाद में अपात्रों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) का खाद्यान्न जारी किया जा रहा है।
पीडीएस के तहत कोटे की दुकानों से बीपीएल व अंत्योदय के साथ ही एपीएल राशनकार्डों पर खाद्यान्न व मिट्टी के तेल का आवंटन हर माह किया जाता है। बेहद सस्ते दर पर दिए जाने वाले इस बीपीएल व अंत्योदय अनाज योजना का लाभ गरीबों को मिलना चाहिए लेकिन जिले में बड़ी तादाद में चल रहे फर्जी राशनकार्डों से यह अनाज अपात्रों के पास पहुंच रहा है। इधर, प्रशासन ने जब जिलेभर के राशनकार्डों का सत्यापन कराया तो एपीएल के 4629 के साथ ही 2182 बीपीएल और 1565 अंत्योदय के फर्जी राशनकार्ड पाए गए हैं। हालांकि प्रशासन ने इस सभी राशनकार्डों को निरस्त कर दिया है लेकिन इससे यह सच्चाई भी सामने आई है कि जिले में फर्जी राशनकार्डों पर बड़ी मात्रा में गरीबों का अनाज आवंटित किया जा रहा था। सिर्फ सरकारी सत्यापन के आंकड़ों को छोड़ दिया जाए तो अभी तक ऐसे राशनकार्डों की तादाद कम नहीं होगी, जो अपात्रों के हाथ में हैं और उनके जरिए पीडीएस के खाद्यान्न की बड़ी मात्रा में कालाबाजारी की जा रही है।

एक ही परिवार को जारी हुए कई राशनकार्ड
जिले में फर्जी राशनकार्डों के अलावा बड़ी संख्या में एक ही परिवार को कई राशनकार्ड जारी किए गए हैं। पूर्ति विभाग ने कभी भी ऐसे राशनकार्डों पर शिकंजा कसने की जरूरत नहीं समझी, जिसका नतीजा रहा कि एक ही परिवार में कई राशनकार्ड होने से बड़े पैमाने पर गड़बड़ी फैल गई। कार्ड पर यूनिट बढ़ाने के लिए बड़ी संख्या में फर्जी नाम भी उपभोक्ताओं ने दर्ज करा रखे हैं।
राशनकार्डधारकों की संख्या
-----------------
बीपीएल - 73322
अंत्योदय - 45221
एपीएल - 537642
------------------
आवंटित होने वाला खाद्यान्न
------------------
बीपीएल-1102.830 क्ंिवटल गेहूं और 1470.740 क्ंिवटल चावल
अंत्योदय-678.315 क्ंिवटल गेहूं और 904.420 क्ंिवटल चावल
------------------------------------

सत्यापन में फर्जी पाए गए राशनकार्डों का ब्योरा
-------------------
तहसील एपीएल बीपीएल अंत्योदय कुल
बिल्सी 1038 85 62 1185
सहसवान 391 231 194 816
दातागंज 1056 568 395 2019
बदायूं 1049 469 374 1892
बिसौली 1095 829 540 2464
--------------------------------------
कुल 4629 2182 1565 8376

जहां फर्जी राशनकार्ड की शिकायत मिलती है, जांच कराई जाती है। मामला सही पाए जाने पर कार्रवाई होती है। सत्यापन के बाद अब कहीं अपात्रों के पास राशनकार्ड नहीं है।
नीरज सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

छत्तीसगढ़ चुनाव के लिए BJP की पहली लिस्ट जारी, इनको लगा झटका

छत्तीसगढ़ में शनिवार को बीजेपी ने 77 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम का एलान कर दिया। बीजेपी की जारी पहली सूची में 14 विधायकों और एक मंत्री को बड़ा झटका लगा है।

21 अक्टूबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree