ऊना एक्सप्रेस में यात्रियों पर हमला, पथराव

Badaun Updated Sun, 10 Jun 2012 12:00 PM IST
दबतोरी/आसफपुर/बरेली। नई दिल्ली से बरेली जा रही ऊना एक्सप्रेस के यात्रियाें पर आसफनगर रेलवे स्टेशन के पास लाठी डंडों से लैस लोगों ने हमला कर दिया और पथराव भी किया। इस घटना में घायल हुई महिला समेत चार यात्रियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ट्रेन 23 मिनट तक रेलवे स्टेशन पर ही खड़ी रही। ट्रेन के साथ चल रहे पुलिस स्क्वायड ने एक हमलावर को हिरासत में ले लिया है। घायलों के परिजनों ने जीआरपी में मुकदमा दर्ज कराया है।
ऊना से चलकर दिल्ली होते हुए बरेली आने वाली यह ट्रेन शनिवार की सुबह चंदौसी रेलवे स्टेशन पहुंची। वहां से ट्रेन में नई दिल्ली के कबीर नगर निवासी असलम का परिवार भी सवार हुआ। असलम परिवार के 15 सदस्यों के साथ वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने बरेली जा रहे थे। ट्रेन में सवार होते वक्त असलम का बैग एक युवक से टकराया तो कहासुनी हो गई। इसी बीच युवक ने मोबाइल फोन से घटना की जानकारी अपने साथियों को दे दी। लाठी डंडों से लैस दर्जन भर युवक आसफपुर रेलवे स्टेशन के पास पहुंच गए। ट्रेन वहां पहुंची ही थी कि लाठी डंडों से लैस युवकाें ने असलम और उसके परिजनों पर हमला बोल दिया। लोगों का तो ये भी कहना है कि युवक ने चेन पुलिंग कर आसफपुर से पहले ही ट्रेन रुकवाई थी। हमले में असलम, मुशर्रफ, नसीरुद्दीन व शकीना समेत चार लोग घायल हो गए। यात्रियों में अफरातफरी मच गई। जानकारी मिलने पर ट्रेन के साथ चल रहे जीआरपी स्क्वायड वहां पहुंच गई। उनको देख हमलावर बोगी से उतर कर भागे और बाहर निकल उन्होंने ट्रेन पर पथराव कर दिया। यात्रियों के मुताबिक हमलावरों ने 15 मिनट तक पथराव किया। आखिरकार पुलिसकर्मियोें ने जैसे तैसे स्थिति को संभाला। पुलिसकर्मियों ने एक हमलावर को हिरासत में ले लिया। इस हंगामे के चलते 23 मिनट तक ट्रेन वहीं खड़ी रही।
ट्रेन के बरेली स्टेशन पहुंचने पर जीआरपी ने घायलों का इलाज कराया। असलम की ओर से अज्ञात हमलावरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी गई है। दूसरी ओर ट्रेन गार्ड बाबूलाल की ओर से अधिकारियों को मेमो दिया गया है। घटना की जानकारी आला विभागीय अधिकारियों को भी दे दी गई है। वहंी सीओ जीआरपी कालू सिंह व एसएसआई राकेश सिंह ने घायलों से घटना की जानकारी ली है।


पुलिसकर्मियों की मानें तो जिस इलाके में ट्रेन पर पथराव व यात्रियों के साथ मारपीट की घटना हुई है इस इलाके में पहले भी कई बार ऐसी घटना हो चुकी है। इन घटनाओं को रोकने में पुलिस व रेल प्रशासन के अधिकारी नाकाम साबित हुए है। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि चंदौसी से लेकर बरेली के बीच ट्रेनों का संचालन आसान काम नहीं है।

Spotlight

Related Videos

ट्रेन से कहीं जाने की सोचने से भी पहले ये खबर जरूर देखें

हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में बर्फबारी का असर दिल्ली-NCR समेत उत्तर भारत में दिखाई दिया।

24 जनवरी 2018