विज्ञापन

घोेटाला खोलने का इनाम, छह महीने में पांच बार तबादला

Badaun Updated Sat, 09 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन की जननी सुरक्षा योजना में लाखों का घोटाला खोलने वाले चिकित्सक डॉ. एएस गौतम ने कहा कि ईमानदारी का इनाम छह माह में पांच बार हुए तबादले के रूप में मिला। मैं कहां तैनात हूं, यही नहीं पता है। क्योंकि जब घोटाला खोला तो पहला तबादला बरेली जिला अस्पताल में हुआ और समरेर पीएचसी पर भी संबद्ध रखा गया। इसके बाद बरेली के जगतपुर में हुआ, फिर वापस बरेली बुला लिया गया। इस दौरान जो लोग घोटाले में शामिल थे उन्हें वहीं आसपास रखा गया। मैंने शासन को इस्तीफा भेजा, वह अस्वीकार हो गया। फिर मुझे बहराइच और अब सोनभद्र भेजा जा रहा है। अब मुझे स्वास्थ्य महकमे में नौकरी नहीं करनी है। मैंने इस्तीफा फिर भेज दिया है। क्योंकि सीबीआई जांच के बावजूद घपलेबाज कतई नहीं डर रहे हैं। मुझे फंसाने और मारने का इंतजाम किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस पूरे घोटाले में सीएमओ से लेकर डीजी हेल्थ और प्रमुख सचिव तक शामिल हैं।
विज्ञापन
शुक्रवार को पूर्व विधायक अवनीश कुमार सिंह के आवास पर प्रेसवार्ता में डॉ. गौतम ने कहा कि बीते साल दिसंबर में जिला क्षय रोग अस्पताल में था, वहां घपला नहीं होने दिया तो मुझे समरेर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का प्रभारी बनाकर भेजा गया। यहां का रिकार्ड देखा तो एक महीने में 300-300 डिलीवरी दर्ज थी। एक ही बच्चे को कई अन्य महिलाओं की गोद में दिखाया गया है। जब पिछली तिथियों में काटे गए 1400-1400 के 400 चेक में 162 की जांच की तो वह फर्जी महिलाओं के नाम निकले। हर डिलीवरी में आशाओं को भुगतान के नाम पर 600-600 रुपये निकाला गया। इसके बाद पूरे प्रकरण की जानकारी सीएमओ से लेकर प्रमुख सचिव तक भेजी। मुझे अब एहसास हुआ कि पूरा महकमा घोटाले में शामिल है।
उन्होंने कहा कि मैं नौकरी से भले ही इस्तीफा दे रहा हूं, लेकिन इन घोटालेबाजों को न्यायालय में जरूर खींचूंगा।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

राजधानी नई दिल्ली में एसयूवी ने कई वाहनों को मारी टक्कर, एक की मौत

बुधवार को राजधानी नई दिल्ली के पश्चिम विहार इलाके में सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में एक लड़की की मौत हो गई। हादसे में 8 लोग घायल  भी हुए हैं। दरअसल ये हादसा एक एसयूवी के रिक्शा,  मोटर साइकिल, रिक्शा और मिनी बस से टकराने की वजह से हुआ।

15 नवंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree