सत्यापन में फंसी है वृद्धावस्था पेंशन

Badaun Updated Thu, 07 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

बदायूं। जिले के करीब साठ हजार वृद्धावस्था लाभार्थियों की पेंशन सत्यापन में फंसी हुई है। समाज कल्याण विभाग को अभी तक एसडीएम व ईओ ने सत्यापन पूरा करके नहीं दिया है, जो मार्च-अप्रैल में ही पूरा हो जाना चाहिए था। इधर, सत्यापन पूरा न होने से समाज कल्याण विभाग शासन को पेंशन की मांग भी नहीं भेज पा रहा है। जाहिर है कि इस बार वृद्धावस्था पेंशन की धनराशि यहां विभाग को काफी विलंब से मिलेगी, जिससे लाभार्थियों को पेंशन के लिए परेशानी उठानी पड़ेगी।
विज्ञापन

समाज कल्याण विभाग ने जिले के करीब साठ हजार पेंशन लाभार्थियों का सत्यापन पिछले साल सितंबर में शुरू कराया था, जो मार्च-अप्रैल में पूरा हो जाना चाहिए था। शहरी क्षेत्र में यह जिम्मेदारी नगर पालिका व नगर पंचायत के ईओ और ग्रामीण क्षेत्र में एसडीएम को जांच सौंपी गई थी। जबकि सत्यापन काम में हुई काफी देरी से जिले के हजारों वृद्धावस्था पेंशन लाभार्थियों की पेंशन फंस गई है। सभी जगह से सत्यापन अभी तक नहीं मिल सका है। ऐसे में समाज कल्याण विभाग पेंशन के लिए मांग भी नहीं तैयार कर शासन को भेज पा रहा है। ऐसे में यह तो साफ है कि इस बार वृद्धावस्था पेंशन का बजट आने में काफी देरी होगी और लाभार्थियों को अभी पेंशन के लिए इंतजार करना होगा।
अपात्रों की जगह शामिल हो सकेंगे नए लाभार्थी
वृद्धावस्था पेंशन सूची की सत्यापन के बाद बड़ी संख्या में अपात्र या मृतक पाए जाने वाले लाभार्थियों के नाम कटने हैं। उधर, सैकड़ों की संख्या में लंबित पड़े फार्मों को सूची से बाहर होने वाले लाभार्थियों की जगह पर समायोजित की जाएगी। ऐसे में काफी समय से पेंशन के लिए दौड़ रहे लाभार्थियों की उम्मीद बढ़ गई है।

रकम जारी होने के बावजूद पेंशन के लाले
बैंकों में सीबीएस खाता होने के बाद बड़ी संख्या में वृद्धावस्था पेंशन लाभार्थियों के खाता नंबर बदल गए हैं लेकिन उसकी सूचना समाज कल्याण विभाग के पास न होने से पेंशन की रकम पुराने खाता नंबर पर भेजी जा रही है। ऐसे में धनराशि जारी होने के बाजवूद लाभार्थियों को पेंशन की रकम नहीं मिल पा रही है। ऐसे में वे विकास भवन से लेकर बैंक के चक्कर काट रहे हैं।

यह सही है कि सत्यापन में काफी विलंब हुआ है। इसके लिए कई बार एसडीएम व ईओ को कई बार पत्र लिखा जा चुका है। जल्द ही सभी जगह से सत्यापन रिपोर्ट मिलने की उम्मीद है। पेंशन के लिए देरी नहीं होगी।
एसएस यादव, जिला समाज कल्याण अधिकारी
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us