सड़क हादसों में दो मरे, पिता-पुत्र समेत पांच घायल

Badaun Updated Tue, 05 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
उझानी(बदायूं)। बरेली-मथुरा हाइवे पर रविवार रात से सोमवार दोपहर तक हुए तीन हादसों में वृद्ध समेत दो लोगों की मौत हो गई। जबकि पिता-पुत्र समेत पांच लोग घायल हैं। घायलों में कांशीरामनगर के युवक को इलाज के लिए बरेली रेफर कर दिया गया।
विज्ञापन

सोमवार सुबह पहला हादसा बरेली-मथुरा हाइवे पर गांव देवमई के पास हुआ। कांशीरामनगर जिले के ढोलना थाना क्षेत्र के गांव अंडुआनगला निवासी उदयवीर (60) अपने पुत्र छोटेलाल (32) के साथ बाइक से बदायूं जा रहा था। बाइक छोटेलाल चला रहा था। देवरमई के पास सामने से जीप ने बाइक को टक्कर मार दी, जिससे बाइक सवार पिता-पुत्र दूर जाकर गिरे। मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। इलाज को बदायूं ले जाते वक्त उदयवीर की मौत हो गई। जबकि गंभीर रूप से घायल छोटे को बरेली रेफर कर दिया गया। पुलिस ने जीप को कब्जे में ले लिया है।
दूसरा हादसा बाइपास पर मानकपुर मोड़ के पास हुआ। कछला से गंगा नहाकर बाइक से घर बदायूं लौट रहे लालपुल इलाके के चंद्रसेन (40), उसके 10 वर्षीय बेटे शिवम और भांजे विवेक को जुगाड़ वाहन ने चपेट में ले लिया। चंद्रसेन का पैर टूट गया। जबकि शिवम और विवेक घायल हो गए। राहगीरों ने घायलों को यहां अस्तपताल में भर्ती कराया। उधर, रविवार रात नगर के मोहल्ला किलाखेड़ा निवासी बाइक सवार श्रीकृष्ण शर्मा (35) को अज्ञात वाहन ने सामने से टक्कर मार दी थी। गंभीर रूप से घायल श्रीकृष्ण की रात में बदायूं जे जाते वक्त मौत हो गई।
मायके से पत्नी को बुलाने गया था श्रीकृष्ण
उझानी। रविवार रात हाइवे पर किसी वाहन की चपेट में आकर मरे श्रीकृष्ण शर्मा की ससुराल कोतवाली क्षेत्र के गांव ललुइया नगला में है। तीन दिन पहले ही उसकी पत्नी मायके गई थी। बड़ा बेटा पिता के पास ही रहा जबकि छोटे दोनों बेटे ननिहाल में थे। दोपहर में एक बेटे ने पिता से फोन पर बात की। बोला था-पापा आ जाओ। रास्ते में उसकी जिदंगी का सफर खत्म हो गया। पोस्टमार्टम के बाद श्रीकृष्ण की लाश घर पहुंची तो पत्नी अनीता और तीन बच्चे दहाड़े मारकर रोने लगे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us