धोखाधड़ी में पांच लोग गए जेल

Badaun Updated Wed, 30 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

दुकान का धोखाधड़ी से कराया था बैनामा
विज्ञापन

सात में दो लोगों ने पहले ही करा ली जमानत
बिल्सी। स्थानीय नगर पालिका परिषद की पूर्व सभासद प्रेमलता वार्ष्णेय उर्फ मुन्नी देवी समेत पांच लोगों को धोखाधड़ी के एक मामले में जेल भेजा गया है।
बता दें नगर के मोहल्ला संख्या एक निवासी चंद्रशेखर वार्ष्णेय ने 28 सितंबर 2010 को पूर्व सभासद प्रेमलता वार्ष्णेय उर्फ मुन्नी देवी पत्नी जयगोपाल वार्ष्णेय, उनके पुत्र भुवनेश कुमार, मनीष वार्ष्णेय, अखिलेश, गोपालकृष्ण सोमानी, तेजपाल और जगदीश चंद्र के खिलाफ उनकी मुख्य बाजार स्थित दुकान को धोखाधड़ी कर बैनामा किए जाने को लेकर थाना पुलिस से शिकायत की थी। कार्रवाई न होने पर उन्होंने न्यायालय की शरण ली। जिस पर न्यायालय ने थाना पुलिस को धोखाधड़ी की रिपोर्ट लिखने के आदेश दिए। पुलिस का कहना है कि इस मामले में जगदीश चंद्र एवं तेजपाल ने अपनी जमानत करा ली। बीते दिन पूर्व सभासद प्रेमलता वार्ष्णेय समेत शेष पांच लोगों ने इस मामले में न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। सत्र न्यायाधीश योगेश कुमार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए इन सभी की जमानत को खारिज कर दिया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us