विज्ञापन

अपहरण-हत्या के छह आरोपियों को उम्रकैद, जुर्माना

Badaun Updated Fri, 18 May 2012 12:00 PM IST
बदायूं। अपर सेशन कोर्ट संख्या दो ने रंजिशन अपहरण, हत्या समेत सबूत मिटाने के मामले में नामजद दो सगे भाइयों समेत छह आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। फैसला सुनाने के दौरान अपर सत्र जज अभिमन्यु ने प्रत्येक पर साढ़े 16 हजार रुपये बतौर जुर्माना भी ठोंका है।
विज्ञापन
विज्ञापन
घटना के मुताबिक कोतवाली दातागंज क्षेत्र के गांव धिमरपुरा निवासी रामौतार का 23 वर्षीय पुत्र श्रीश्चंद्र मवेशियों के लिए 12 मार्च 2006 को जंगल से चारा लेने दिन के ढाई बजे गया था। शाम तक न लौटने पर परिवार के लोगों ने उसकी तलाश की, गांव वालों ने बताया कि श्रीश्चंद्र को नाजायज असलहों के बल पर आरोपियों ने अपहरण कर लिया। गांव वालों के बताए गए स्थान पर परिवार के लोग उसे ढूंढते हुए रायपुर घाट पहुंचे तो तालाब में श्रीश्चंद्र की सिरविहीन लाश अधगढ़ी हुई मिली। आरोपियों ने श्रीश्चंद्र की हत्या करके सबूत मिटाने के इरादे से उसका सिर गायब कर दिया। मामले की नामजद रिपोर्ट श्रीश्चंद्र के पिता ने कोतवाली दातागंज में 12 मार्च को दर्ज कराई। हत्या की पृष्ठभूमि में मामला चुनावी रंजिश का था।
कोर्ट ने दोनों पक्षों की सुनवाई के उपरांत श्रीश्चंद्र का रंजिशन अपहरण कर उसकी हत्या करने व सबूत मिटाने के आरोप में दोषी पाकर बरेली के थाना फरीदपुर क्षेत्र के गांव गौटिया निवासी रोहताश यादव, राकेश, जगदीश और उसके भाई धूमसिंह समेत इसी थाना क्षेत्र के गांव नवदिया निवासी अमर सिंह, रजनेश को उम्रकैद की सजा सुनाई है। फैसला सुनाने के दौरान गैरहाजिर रहे आरोपी धूमसिंह की गिरफ्तारी के लिए एसपी को हिदायत भी दी गई। अभियोजन पक्ष की ओर से पैरवी एडीजीसी राजीव यादव ने की।

Recommended

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे
ADVERTORIAL

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

कर्नाटक संकट: 18 जनवरी को कांग्रेस ने बुलाई विधायकों की बैठक, बीजेपी पर लगाया हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप

कर्नाटक में चल रहे सियासी नाटक को कांग्रेस ने आधारहीन करार दिया। फिल्डिंग करते हुए कर्नाटक के कांग्रेस प्रभारी समेत सांसद ने भी बीजेपी पर खरीद-फरोख्त के आरोप लगा दिए।

16 जनवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree